Breaking News

सपा के कद्दावर नेता पवन सिंह ने अंकुर शुक्ला हत्या कांड की उच्चस्तरीय जांच की मांग की

 

रिपोर्ट मु.जाकिर

 

गोरखपुर/ समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता पवन सिंह अंकुर शुक्ला हत्याकांड से बहुत ज्यादा आहत हुए है उन्होंने जिला प्रशासन को सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि अंकुर शुक्ला हत्या कांड की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए सभी आरोपियों को पुलिस जल्द से जल्द गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजे सपा नेता पवन सिंह ने आगे कहा है कि जिले में अपराधियों का खौफ इस कदर बढ़ता जा रहा है कि अंकुर शुक्ला का परिवार अब मकान बेचने पर मजबूर हो गया है अंकुर शुक्ला के पिता ने इसके लिए बाकायदा घर के बाहर पोस्टर लगा दिया है ये अपने आप मे शर्म से डूब जाने वाली बात है समाजवादी पार्टी के सभी नेता अंकुर शुक्ला के परिवार के साथ खड़े है अंकुर शुक्ला के सभी हत्यारों को पुलिस जल्द से जल्द गिरफ्तार करे नही तो हम सभी समाजवादी पार्टी के लोग आंदोलन के लिए बाध्य होंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। भाजपा के नेता यूपी को अपराध मुक्त प्रदेश कहते नही थकते है अगर यह अपराध मुक्त है तो फिर अपराध प्रदेश किसे कहेंगे भाजपा के राज में कहीं भी ब्राह्मण सुरक्षित नहीं है लगातार ब्राह्मणों की हत्याएं हो रही है प्रशासन अपराधियों का सहयोग कर रहा है जहां हत्या होती है प्रशासन पीड़ित परिवार के साथ होता है लेकिन यूपी में देखने को मिला है कि प्रशासन हत्यारों के साथ है आज पूरे प्रदेश में जंगलराज है। रामगढ़ताल थाना क्षेत्र के रामपुर गांव में 17 वर्षीय अंकुर शुक्ला की हत्या के बाद अब गोरखपुर का सियासी पारा पूरी तरीके से चढ़ा हुआ है. सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय के सामने सपा, बसपा, कांग्रेस और कई ब्राह्मण संगठनों के नेताओं ने मिलकर अंकुर को श्रद्धांजलि देने के बाद धरना दिया. इस दौरान उन्होंने सरकार के ऊपर दोहरी नीति लगाने का आरोप लगाया आपको बता दे की रामगढ़ताल क्षेत्र के रामपुर टप्पा गांव में 24 नवंबर को दोपहर ने 17 वर्षीय युवक अंकुर शुक्ला की गांव के ही युवकों ने चाकू से मार कर निर्मम हत्या कर दी थी पुलिस ने इस संबंध में 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया था। आरोपियों में से अवधेश साहनी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया रामगढ़ ताल पुलिस ने शनिवार को एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है अभी भी दो हत्यारोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है

About IBN NEWS MAHARAJGANJ

Check Also

सीएम योगी के भाजपा प्रत्याशी घोषित होने के बाद अब अन्य दलों के संभावित प्रत्याशियों पर दिलचस्पी नहीं।

भाजपा की सेफ सीट मानी जाती है गोरखपुर शहर विधानसभा संसदीय चुनाव में शहर से …