Breaking News

गाजीपुर: अंजना बनाम सपना के मामले में जिले के दो राजनीतिक धुरन्धरो को पटकनी देने में कामयाब हुये स्व0 शंकर सिंह के पुत्र पंकज सिंह चंचल

 

टीम आईबीएन न्यूज

राकेश की रिपोर्ट

गाजीपुर: लम्बे समय से कोर्ट मे लम्बित अंजना सिंह बनाम सपना सिंह के चर्चित मामले में फैसला हो गया। लेकिन इस फैसले के बाद जिले की राजनीति में अपनी पहचान रखने वाले सैदपुर इलाके के दो बड़े धुरन्धरो को मुह की खानी पड़ी।
हालाकिं मामला अब हाईकोर्ट में जायेगा और लड़ाई आगे भी जारी रहेगी।

कहावत है कि गुरू गुरूवे रहगइलन चेला चीनी हो गइलन। कभी पूर्व सांसद रहे राधेमोहन सिंह की सभाओं व कार्यक्रमों में अपनी दखल व सहयोग रखने वाला रमाशंकर सिंह का परिवार आज खुद एक राजनैतिक ट्रांसफार्मर बन गया हैं। यहॅा तक कि लाख कोशिश के बाद भी इस परिवार के जीजा को भी कोर्ट की इस लड़ाई में मात मिली है। कोर्ट मे आये फैसले के दौरान पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह की पत्नी अंजना सिंह की ओर से लगाये गये आरोपो को निराधार बताते हुये मामले को खारिज कर दिया गया है और यह भी तय हो गया है कि सपना सिंह आगे भी जिला पंचायत की अध्यक्ष बनी रहेगीं।

पूर्व में राधेमोहन सिह ने सपना सिंह को हराने के लिये अपनी पूरी ताकत लगाया था लेकिन वोटिंग के बाद सपना सिंह चुनाव जीत गई और अंजना सिंह जिला पंचायत की अध्यक्ष नही बन पाई तब पंकज सिंह चंचल के जीजा विशाल सिंह चंचल ने अपनी ताकत व पहुंच का पूरा इस्तेमाल किया।

लेकिन बीच में आई कुछ खटास के चलते जिले की राजनीति में अपनी पहचान रखने वाले राधेमोहन सिंह व भाजपा के वरिष्ठ नेता व विधानपरिषद सदस्य विशाल सिंह चंचल ने सपना पर कई आरोप लगाये जो निराधार ही रहे। हर जाच खटाई मे पड गयी।

मतगणना में की गयी धाधली व बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगने के बाद ढाई साल बाद कोर्ट ने सपना सिंह के पक्ष में फैसला सुनाकर सैदपुर के साथ जिले की राजनीति में पंकज सिंह चंचल को शीर्ष पर ला दिया है। पंकज सिंह चंचल जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह के पति है। जबकि विशाल सिंह चंचल पंकज सिह चंचल के जीजा है। जिले के राजनीतिक गलियारों में जोरदार चर्चा है कि पूर्वांचल की राजनीति व व्यापार में अपनी अलग पहचान रखने वाले शिवशंकर सिंह के निधन होने के बाद भी उनके पुत्र विशाल सिंह चंचल ने अपने विरोधियों को करारी शिकस्त देने का काम किया है।

एक खेमे में मिठाईया बंट रही है। खुशी की लहर है तो दूसरे व तीसरे खेमे में मामले को आगे के कोर्ट में ले जाने की गुत्थम गुत्थी जारी है। हालांकि पूर्व सांसद राधेमोहन सिह ने साफ कहा कि भ्रम फैलाकर नीचे की अदालतों से आर्डर निकलवा लेना जीत नही होती न ही सच का फैसला होता है। इस मामले में अगली अदालत का दरवाजा खटखटाया जायेगा और जो गलतियॉ की जा रही है उसका खामियाजा दोषियो को भुगतना पड़ेगा। कोर्ट से बिना आर्डर आये जबानी सुनवाई के बाद प्रेस वार्ता करके पंकज सिंह चंचल ने कानून का भी मजाक बनाया है। इस बात को भी भूलना नही चाहिये।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

संघर्ष आमंत्रण है प्रगति का जो करता है वही आगे बढ़ता है  -अनुप्रिया पटेल

रिपोर्ट विकाश चन्द्र अग्रहरी IBN NEWS मिर्ज़ापुर बिना संघर्ष, बिना चुनौतियों का सामना किये व्यक्ति …