Breaking News

नए कानून के विरोध में ट्रक, ऑटो, टेम्पो ड्राइवरों ने तीन दिवसीय हड़ताल शुरू कर दी।

 

ड्राइवरों ने वाहनों को रोककर ड्राइवरों को पहनाया माला, किया किया सड़क पर हल्ला बोल

मीरजापुर। ट्रक वाहनों से जुड़े नए कानून का विरोध शुरू हो गया है।

देशभर के ट्रक चालकों और ट्रांसपोर्टर्स ने इसके खिलाफ हड़ताल शुरू कर दी है. इसका नतीजा यह हुआ कि साल के पहले दिन यानी 1 जनवरी को ही देश के कई राज्यों में जरूरी चीजों की कमी होने लगी। दिन मंगलवार को अहरौरा क्षेत्र के मेंहदीपुर चौराहा व ओवरब्रिज के पास ट्रक, ऑटो, जीप, मैजिक, टेम्पो जैसे सैकड़ो ड्राइवरों ने हड़ताल किया जिसमें सड़क पर चल रहे वाहनों को रुकवाकर चालको को माला पहनाकर किया स्वागत और हड़ताल करने की आग्रह किया।

इस नए कानून में कहा गया है कि घातक और भीषण दुर्घटना की सूचना न देने पर गाड़ी के ड्राइवर को 10 साल की सजा हो सकती है या फिर 7 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है ये प्रावधान नए कानून भारतीय न्याय संहिता में किए गए हैं इससे पहले आईपीसी की धारा 304 A के तहत ऐसे मामलों में सिर्फ दो साल की सजा हो सकती थी।

अब इस पर ट्रक ड्राइवरों का कहना है कि इस नए कानून से ट्रक ड्राइवरों में डर पैदा होगा और नए लोग इस काम में भी नहीं आएंगे। ट्रक ड्राइवरों के अलावा ऑटो चालक भी इसके खिलाफ सड़क पर उतर आए हैं।
सभी ड्राइवरों ने कहा कि ड्राइवरों की अपील है कि इस कानून को वापस लिया जाए।3

सड़क पर वाहनों को रोककर माला पहनाते और सड़क पर वाहनों को रोकने की सूचना मिलते ही मौके पर पहूंचे थाना प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार गुप्ता द्वारा ड्राइवरों को समझाया और कहा कि आप लोगों को प्रदर्शन करना है तो आप लोग एक जगह का स्थान चयन करके वहां प्रदर्शन करे। फिर आपकी बातों को ऊपर तक पंहुचाया जाएगा।

और कहा कि ऐसे सड़क पर वाहनों को रोकना गलत है अगर सड़क पर कोई दुर्घटना घटित होती है तो, पुलिस आपलोगों के खिलाफ सख्ती से पेश आएगी। इस दौरान ड्राइवर संतोष शाहनी, छोटु, विकास, शेखर, सुभाष, शंकर, सूरज, राहुल कुमार, अरविंद आदि ड्राइवर मौजूद रहे।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

संघर्ष आमंत्रण है प्रगति का जो करता है वही आगे बढ़ता है  -अनुप्रिया पटेल

रिपोर्ट विकाश चन्द्र अग्रहरी IBN NEWS मिर्ज़ापुर बिना संघर्ष, बिना चुनौतियों का सामना किये व्यक्ति …