Breaking News

दिव्याॅग कोई  अभिशाप नही……….दया की नहीं अपितु प्रोत्सनाहन  की आवश्यकता

 

IBN TEAM

हमारे समाज को  दिव्यांगजन   के प्रति  अपनी मानसिकता बदलने की जरूरत है क्योंकि दिव्याॅग कोई   अभिशाप नही  है । उन्हें किसी दया की नहीं अपितु प्रोत्सनाहन  की आवश्यकता है। इनके प्रति  नकारात्मक दृष्टीकोड़ और  उपेक्षा के  कारण सामाजिक चुनौतियाॅ जटिल हो  जाती हैं। उनमें भी कुछ  कर गुजरने  का दम है। दिव्याॅग भी किसी मायने में किसी से कम नहीं हैं। इसलिये उनके मल्ू य को कम नहीं आंकना चाहिये। हम दिव्याॅग की भावनाओ  को समझने  और उसके आत्म-सम्मान को  भाव को ठोस न लगने दें ,उनके साथ मित्रता,सहयोग का आचरण करें ताकि वह हीन-भावना से ग्रस्त न हों। शारीरिक अक्षमता जरूरी नहीं है कि वह मानसिक रूप से भी अक्षम ही हो। इसका ज्वलन्त स्वरूप विद्यालय में पढने वाले अंकुल  यादव पुत्र श्री दिनेश कुमार (माता श्रीमती जानकी देवी) निवासी चंदीपुर मजरा लिलौली, ब्लाक निन्दुरा, तहसील-फतेहपुर,जिला-बाराबकी ने वर्ष 2022-23 की र्हाइ स्क ूल की वार्षिक परीक्षा सागर पब्लिक इण्टर काॅलेज,हाजीपुर, बाराबंकी से  उत्तीर्ण कर समाज में अपनी  बुद्धिमत्ता प्रस्तुत की है। विद् यालय प्रबन्ध समिति को ओर से  इनके उज्जवल भविष्य कीहार्दिक बर्धाइ ।

समाज के लोगों अपील है  कि दिव्याॅग को  प्रति अपना नजरिया बदलते  हुए उन्हे  समाज की मुख्य धारा से जोडने हेतु आगे आना चाहिये। ताकि वह भी स्वतंत्र और आत्म निभर्र जीवन व्यतीत कर सके । सागर पब्लिक इण्टर काॅलेज,हाजीपुर, बाराबंकी की दिव्याॅग व अनाथ बच्चों के प्रति सहानुभूि त रखते हुए उनके चैमुखी विकास के लिये  सतत् प्रयासरत है। विद्यालय प्रवंध समिति द्धारा वर्ष-2023 से आस-पास रहने वाले  शारीरिक रूप से दिव्याॅग बच्चों को विद ्यालय में निःशुल्क पठन-पाठन कराने का निर्ण य लिया है। इसके लिये विद्यालय की टीम क्षेत्र में भ्रमण कर शारीरिक रूप से दिव्याॅग बच्चो को  चिन्हित कर उनके अभिभावकों से  सम्पर्क कर दिव्यांग बच्चों का विद् यालय में एडमिशन का कार्य कर रही है । अभिभावकों से  अपील है  कि अपने दिव्याॅग बच्चों को समाज की मुख्या  धारा से  जोड़ने स्वतंत्र और  आत्म निर्भ र बनाने की इस मुहीम में हमारा सहयोग दें।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

भगवा के अनन्य उपासक, रणनीति, कूटनीति में माहिर, भ्रष्टाचार निषेधक और हिंदुओं की घर वापसी के प्रबल समर्थक थे शिवाजी: एडवोकेट तिलकधारी

  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवको ने मनाया हिन्दू साम्राज्य दिनोत्सव 13 वर्ष की आयु …