Breaking News

राजस्थान: 14 जून का दिन राजस्थान के लिए गमगीन रहा,आखिर कर कब होगा पाकिस्तान का इलाज

14 जून का दिन राजस्थान के लिए गमगीन रहा,आखिर कर कब होगा पाकिस्तान का इलाज
बीएसएफ के जिन तीन जवानों की मौत पाकिस्तान की गोलाबारी से 12 जून को हुई थी, उन शहीदों का 14 जून को उनके पैतृक गांव में अंतिम संस्कार किया गया। पाकिस्तान की गोलाबारी में शहीद चैथा जवान यूपी का रहने वाला है। 14 जून को भरतपुर के सलेमपुरा कला में 32 वर्षीय जितेन्द्र, सीकर के बानावाली ढाणीतन डाबला में 45 वर्षीय रामनिवास तथा अलवर के बांसूर में 28 वर्षीय हंसराज का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। गांव वालों ने तो गर्व की बात बताई कि उनके गांव का युवक देश की खातिर शहीद हुआ है। लेकिन वहीं तीनों जवानों के परिजन का रो रो कर बुरा हाल था। पत्नियां चूड़ियां तोड़ रही थीं, तो बूढ़ी मां छाती पीट रही थी। यह माना कि हमारे जवान देश की खातिर शहीद हुए हैं।
लेकिन सवाल उठता है कि आखिर पाकिस्तान कब तक हमारे जवानों को यूं ही शहीद करता रहेगा। पाकिस्तान का भारत के साथ कोई युद्ध नहीं चल रहा है। लेकिन इसके बावजूद भी पाकिस्तान की ओर से सीमा पर युद्ध की तरह गोलाबारी की जाती है। शर्मनाक बात तो ये है कि राजस्थान के ये तीनो जवान जम्मू कश्मीर के सांबा क्षेत्र में उस समय शहीद हुए जब इस क्षेत्र की एक दरगाह की मरम्मत के लिए हमारे जवान ईंट आदि सामान पहुंचाने का कार्य कर रहे थे। इस दरगाह में 28 जून से मेले का आयोजन होना है। यानि दरगाह की हिफाजत करने वाले जवानों पर ही पाकिस्तान ने गोलाबारी की। इन दिनों पवित्र रमजान माह चल रहा है।
इस माह में आम मुसलमान इबादत करता है, लेकिन पाकिस्तान की सेना हमारे जवानों पर इसी माह में गोलाबारी दाग रही है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान की सेना किस इरादे के साथ काम करती है। भारत सरकार की ओर से बार बार कहा जाता है कि पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। समझ में नहीं आता कि सरकार कब पाकिस्तान को जवाब देगी। सरकार को शहीदों के परिजन के दर्द को भी समझना चाहिए।
 
 

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

जन आक्रोश रैली निकाल प्रदेश के कांग्रेस सरकार का जताया विरोध

  मनीष दवे IBN NEWS जालोर :– भाजपा प्रदेश नेतृत्व के निर्देशानुसार भाजपा जालौर द्वारा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *