Breaking News

परिवारवाद पर प्रहार मिटाएंगे भ्रष्टाचार: मोदी

 

नई दिल्ली:76वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से देश को संबोधित करते हुए सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले 25 साल के लिए देश का लक्ष्य तय कर दिया। उन्होंने परिवार वाद और भ्रष्टाचार को चुनौती बताते हुए कहा कि हमें इनके खिलाफ पूरी ताकत से लड़ना है। प्रधानमंत्री ने जनता से इस जंग में साथ मांगा‌। वहीं उन्होंने कहा कि राजनीति के साथ ही परिवारवाद हर संस्था में है। इसके देश के भलाई से कोई लेना देना नहीं है। वही आने वाले 25 वर्षों के लिए पीएम ने जनता से पंच प्रण लेने को भी कहा।


पहला प्रण: पीएम ने विकसित भारत को पहला प्रण बताया और कहा कि इससे कुछ कम नहीं होना चाहिए।
दूसरा प्रण: गुलामी की हर सोच से मुक्त पाने को उन्होंने दूसरा प्रण बताया। पीएम ने कहा गुलामी की सोच से मुक्त पानी ही होगी।

तीसरा प्रण:विरासत पर गर्व करने को तीसरा प्रण बताया और कहा कि यही वह विरासत है जिसने भारत को स्वर्णिम काल दिया है। इस विरासत के प्रति हमें गर्व होना चाहिए।
चौथा प्रण: एकता और एकजुटता । 130 करोड़ देशवासियों में एकता।

पांचवां प्रण: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकों को कर्तव्य को पांचवा प्रण बताया।
➡️ देश के आजादी के इस अमृत काल में विकसित भारत हमारा पहला प्रण है हमें इससे कम कुछ नहीं चाहिए।-नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री

▪️ 9वीं बार लाल किले से संबोधन में प्रधानमंत्री ने 83 मिनट का भाषण दिया।

▪️ तिरंगे को सलामी देने के लिए पहली बार मेड इन इंडिया तोप का इस्तेमाल हुआ।

▶️ जय अनुसाधन का नारा, प्रधानमंत्री ने कहा महिलाओं का सम्मान करें

(1). प्रधानमंत्री ने लाल किले के प्राचीर से नया नारा किया। उन्होंने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री ने जय जवान जय किसान का नारा दिया था। अटल बिहारी वाजपेई ने इससे जय विज्ञान जोड़ा और अब इसमें जय अनुसाधन जोड़ने का समय आ गया है। अब जय जवान जय किसान जय विज्ञान जय अनुसाधन हो।

(2). अंतरिक्ष की ऊंचाइयों से लेकर समुद्र की गहराइयों तक रिसर्च को बढ़ावा देने की बात करते हुए पीएम ने कहा हमारा प्रयास है कि देश के युवाओं को असीम अंतरिक्ष से लेकर समंदर की गहराइयों तक रिचार्ज के लिए भरपूर मदद मिले। इसलिए हमें स्पेस मिशन का गहरा समंदर के गहराइयों तक विस्तार कर रहे हैं। स्पेस और समुंदर की गहराई में ही हमारे भविष्य के लिए जरूरी समाधान है।

(3). उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वह ऐसा कुछ ना करने का संकल्प लें, जिससे महिलाओं के प्रतिष्ठा कम होती है। उन्होंने कहा हमारे आचरण में विकृति आ गई है और हम कभी-कभी महिलाओं का अपमान करते हैं। क्या हम अपने व्यवहार को मूल्यों में इससे छुटकारा पाने का संकल्प ले सकते हैं।

(4). प्रधानमंत्री ने आतम निर्भर भारत का जिक्र करते हुए कहा कि यह भी सपना है कि दुनिया की जो भी जरूरत है हैं उन्हें पूरा करने में भारत पीछे नहीं रहेगा। हमें आत्मनिर्भर बनना है मिशन हाइड्रोजन हो या बायोफिल्म की कोशिश हमें अपने बदन पर के इन व्यवस्थाओं को आगे बढ़ाना होगा।

(5). भारत के लिए स्पेशल कोर्ट पैकेट बताते हुए मोदी ने कहा कि देश में 5G सेवाएं जल्द शुरू होगी और डिजिटल भारत का सपना गांवों से गुजरेगा। इसका ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 देश को विकसित करने में कारगर सिद्ध होगी:राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट फरीदाबाद:हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि हरियाणा सरकार …