Breaking News

मनरेगा मजदूरों को ट्रेनिंग के बाद स्टेडियम व बहुमंजिला भवन बनाने के कार्यों में लगाया जाएगा: सीडीओ

रिपोर्ट ब्यूरो

गोरखपुर। मनरेगा मजदूरों को अब इधर उधर भटकने की जरूरत नहीं है अभी तक मनरेगा का कार्य केवल कागजों में दिखाई देता था सरकार की पहल पर अब मनरेगा मजदूरों का कार्य स्वाभाविक रूप से दिखाई देगा विकास भवन सभागार में सीडीओ इंद्रजीत सिंह ने तकनीकी सहायक व  ग्राम रोजगार सेवकों की बैठक कर उन्हें ट्रेनिंग दी गई तकनीकी सहायकों द्वारा मनरेगा मजदूरों से अब गांव में काम खत्म होने के बाद मजदूरों से स्टेडियम व बहुमंजिला भवनों पर कार्य करने के लिए लगाया जाएगा जिससे इनका जीविकोपार्जन हमेशा चल सकेगा साथ मे अब मनरेगा मजदूरों से गरीबों के आवास बनाने के लिए अब बाहर से मजदूर बुलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह कार्य अब खुद मनरेगा मजदूर करेंगे। ये गांव में चयनित लाभार्थियों के आवास बनाएंगे। निर्माण कार्य पूरा होते ही इन्हें पगार मिल जाएगी।  इससे मजदूरों का रोजगार के लिए क्षेत्र से पलायन रुकेगा।  इसके लिए पहले सर्वे कराया जाता है। सर्वे के आधार पर प्रधान व सेक्रेटरी आवासों की मंजूरी देते हैं। भवनों पर खर्च होने वाली रकम सीधे लाभार्थी के खाते में भेजी जाती हैं। अभी तक भवन बनाने में मनरेगा मजदूरों की अनिवार्यता नहीं थी, जिससे मनरेगा मजदूरों को काम की तलाश में चक्कर लगाने पड़ते थे। काम न मिलने की वजह से मजबूरन शहर की ओर पलायन करना पड़ता था कुछ ऐसी ही दिक्कतों को संज्ञान में लेते हुए  आवास योजना में मनरेगा मजदूरों को रोजगार देने की योजना बनाई है। गांव में आवास का काम समाप्त होने के बाद इन मजदूरों से सरकार द्वारा प्रस्तावित स्टेडियम व बहुमंजिला भवनों के निर्माण में ट्रेनिंग के बाद इनको काम दिया जाएगा। बैठक में जिला विकास अधिकारी प्रेम प्रकाश यादव तकनीकी सहायक ग्राम रोजगार सेवक मौजूद रहे।

About IBN NEWS

Check Also

‘‘सभी का सभी से प्रेम-एकात्म मानवदर्शन‘‘: प्रो. उपेन्द्र नाथ त्रिपाठी क़

रिपोर्ट योगेश श्रीवास्तव गोरखपुर। दीनदयाल उपाध्याय शोधपीठ, पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती 25 सितम्बर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *