Breaking News

यू0पी0: सपा छोड़ भाजपाई बने पूर्व विधायक पर संकट के बादल प्रतिनिधि समेत प्रापर्टी डीलर मित्र पर भी लटक रही तलवार

 

टीम आईबीएन न्यूज

लखनऊ: 17 साल पूर्व श्रम विभाग के डिप्टी डायरेक्टर पर दर्ज हुए मामले में एक साल बाद ही आ गये फैसले को अध्ंोरे में रखकर पूर्वांचल के पूर्व सपा विधायक मौजूदा भाजपा नेता समेत उसके प्रतिनिधि व बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी समेत प्रापर्टी डीलर के दिन लदने वाले है। पूर्व डिप्टी डायरेक्टर ने मामले में मानहानि का दावा करने का मूड बना लिया है। जिसके चलते पूर्वांचल की राजनीति में हड़कंप मचा हुआ है। पूर्व विधायक पिछले 15 दिन पहले लेन देन के एक मामले में बम्बई की पुलिस के हत्थे चढ़ा और पुलिस ने उसे जेल भेज दिया हालांकि मौजूदा समय में वह जमानत पर बाहर है।

बताते चले कि गाजीपुर जिले के करण्डा इलाके के रहने वाले मौजूदा सपा विधायक अंकित भारती के पिता ओमप्रकाश भारती उ0प्र0 सरकार की प्रशासनिक सेवा में लम्बे समय तक रहे है। श्रम विभाग में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर 17 वर्षो तक मेरठ मण्डल में अपनी सेवायें देकर उन्होेनंें रिकार्ड भी बनाया है। पिछले विधानसभा चुनाव मंे सपा से प्रत्याशी चुने जाने के बाद अंकित भारती की व उनके पिता की छवि खराब करने के लिये मौजूदा सपा विधायक व भाजपा समर्थित प्रत्याशी सुभाष पासी डा0 विनोद विधायक के प्रतिनिधि आसॅंू दूबे सहित गाजियाबाद में प्रापर्टी का काम करने वाले आसूॅ के करीबी युवक ने एक वीडियो व कुछ दस्तावेज सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया जिसमें ओ0पी0 भारती पर काफी घिनौने आरोप लगाये गये थे।

जिसके बावत ओ0पी0 भारती ने साफ कर दिया कि मामला आपसी अफसरों की रंजिश में दर्ज कराया गया था जो एक साल बाद ही कोर्ट ने खारिज कर दिया। समूचा मामला चुनाव प्रभावित करने की एक साजिश हैं। इस मामले को लेकर ओ0पी0 भारती ने चुनाव आयुक्त के साथ-साथ स्थानीय चुनाव प्रेक्षक व जिलाधिकारी से भी शिकायत किया था। लेकिन चुनाव बीत जाने के बाद मामला बीच में अटक गया।

श्रम विभाग में पूर्व डिप्टी डायरेक्टर रहे ओ0पी0 भारती ने बताया कि घिनौने आरोपों के वायरल होने के बाद भी क्षेत्र की जनता ने अंकित भारती को 37000 वोटो से जिताया। इसके लिये इलाके की जनता बधाई के पात्र है। श्री भारती ने स्पष्ट कहा है कि सारे दस्तावेज तैयार है और चुनाव के समय घिनौनी व बेबुनियाद साजिशों को अंजाम देने वाले व गलत संदेश के जरिये सोशल मीडिया प्लेटफार्म को प्रभावित करने वाले पूर्व विधायक समेत उनके प्रतिनिधि विधायक प्रत्याशी व प्रापर्टी डीलर पर मानहानि का दावा जरूर होगा। दावा इसी सप्ताह होगा।

पूर्व बसपा प्रत्याशी डा0 विनोद ने बताया कि हम या मेरे मोबाइल से कभी भी किसी के खिलाफ कोई प्रचार या दुष्प्रचार नही किया गया है। अगर भारती जी के पास कोई सबूत मिलेगा भी तो मैं माफी मांग लूंगा। मै किसी को बदनाम करने का गलत काम नही करूंगा। जबकि पूर्व विधायक के प्रतिनिधि रहे आसूॅ दूबे का कहना है कि चुनाव के समय तमाम वायरल चलते है लेकिन हमारे व विधायक जी की ओर से किसी की छवि को लेकर गलत संदेश नही दिया गया। अगर भारती जी को कहीं कोई संदेह है तो जांच करा लें हम उनके साथ है।

राकेश की रिपोर्ट

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

DEORIA NEWS- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे देवरिया विपक्ष पर जम कर बोला हमला

Ibn news Team देवरियारिपोर्ट — फिरोज खान खबर उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले से है …