Breaking News

कड़ी सुरक्षा के बीच स्ट्रांग रूमो में सील की गई ईवीएम:निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह

 

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट

 

फरीदाबाद:सामान्य चुनाव पर्यवेक्षक अक्षय कुमार सिंह और जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह तथा राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में ईवीएम सीयू,बीयू और वीवीपैट को स्ट्रांग रूम में सील किया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह और सामान्य चुनाव पर्यवेक्षक अक्षय कुमार सिंह तथा राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में सबसे पहले बड़खल विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम सीयू,बीयू और वीवीपीएटी को स्ट्रांग रूम में सील किया गया। तत्पश्चात जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह और सामान्य पर्यवेक्षक अक्षय कुमार सिंह एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के स्ट्रांग रूम लखानी धर्मशाला में पहुंचे। जहां एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा व अन्य उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम को लॉक करके उसे सील किया गया।

 

इसके पश्चात् सेक्टर-14 के डीएवी स्कूल के ऑडिटोरियम में फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम, वीवीपैट,सीयू और बीयु के लिए बनाए गए स्ट्रांग रूम को जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह,चुनाव पर्यवेक्षक खर्च सतीश एस रेड्डी की मौजूदगी में और उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में लॉक करके सील किया गया। इसी प्रकार सेक्टर-16 में के गुर्जर भवन में तिगांव विधानसभा क्षेत्र और पंजाबी भवन में पृथला विधानसभा क्षेत्र तथा बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर-2 में सुषमा स्वराज राजकीय महिला महाविद्यालय के हाल में बनाए गए स्ट्रांग रूम में पुलिस और फोर्स की कड़ी सुरक्षा बीच ईवीएम,वीवीपीएटी,सीयू और बीयू के स्ट्रांग रूम को सील किया गया।

 

विधानसभा क्षेत्र वार किए गए स्ट्रांग रूम के सील करने के दौरान सहायक रिटर्निंग अधिकारी कम एडीसी आनंद शर्मा,सहायक रिटर्निंग अधिकारी कम सीईओ जिला परिषद सतबीर मान,सहायक रिटर्निंग अधिकारी कम एसडीएम त्रिलोकचंद,सहायक रिटर्निंग अधिकारी कम एसडीएम अमित मान,सहायक रिटर्निंग अधिकारी कम एसडीएम शिखा अंतिम और सहायक रिटर्निग अधिकारी कम एस्टेट ऑफिसर सिद्धार्थ दहिया व अन्य प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस अधिकारी तथा फोर्स के अधिकारी व उम्मीदवारों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

सारा मीडिया एग्जिट पोल्स से बजबजाने लगा कथित सर्वे के अनुमानों को परिणामों की तरह दिखाया जाने लगा

एग्जिट पोल्स : सिर्फ धंधा है या कुछ और इरादे भी हैं? (आलेख : राकेश) …