जिला पूर्ति अधिकारी ने टैंकर सहित 34000 लीटर बायोकेमिकल से तैयार नकली डीजल को किया जप्त व सील।

 

गोरखपुर।ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर कुलदीप मीना अपने सहयोगी सदर तहसीलदार डॉक्टर संजीव दिक्षित के साथ क्षेत्र भ्रमण पर निकले थे बेलीपार थाना अंतर्गत जंगल दीर्धन सिंह विनोद चंद्र पुत्र हरिश्चंद्र का 15 वर्ष पूर्व भारत पेट्रोलियम के पंप को जिला पूर्ति विभाग द्वारा सील कर दिया गया था उसी पेट्रोल पंप पर आज भ्रमण के दौरान कुछ अवैध गतिविधियां करते हुए कर्मचारी दिखाई दिए सक को दूर करने के लिए ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर कुलदीप मीना अपने सहयोगी सदर तहसीलदार डॉक्टर संजीव दिक्षित कानूनगो प्रदुमन सिंह व वीर बहादुर सिंह के साथ उक्त बंद पड़े पेट्रोल पंप पहुंचे तो अफरा तफरी मच गया तत्काल ज्वाइंट मजिस्ट्रेट द्वारा जिला पूर्ति अधिकारी आनंद सिंह को सूचना दी गई श्री सिंह तत्काल अपने सहयोगियों अरुण सिंह व बृजेश दुबे के साथ उक्त बंद पड़े पेट्रोल पंप जंगल दीर्धन सिंह पहुंच कर उक्त बंद पड़े पेट्रोल पंप पर तत्काल त्वरित कार्रवाई करते हुए बंद पड़े पेट्रोल पंप पर बायोकेमिकल से नकली डीजल बनाने का भंडाफोड़ करते हुए 34000 लीटर बायो केमिकल से तैयार नकली डीजल के साथ तीन टैंकर जप्त करते हुए वैधानिक कार्रवाई की श्री सिंह ने कहा कि अवैध तरीके से बंद पड़े पेट्रोल पंप पर बायोकेमिकल से डीजल बनाने का कार्य करने वाले पकड़े गये चार कर्मचारियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी जिससे आगे चलकर इस तरह अवैध कार्यो को करते हुये राजस्व क्षती पहुंचाते हुए अवैध तरीके से डीजल बनाना भूल जाएंगे बायोकेमिकल से तैयार डीजल को लेबोरेटरी में जांच हेतु भेज दिया गया है रिपोर्ट आने के बाद वैधानिक कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी साथ में ही टैंकर मालिकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर कुलदीप मीना ने बताया कि पकड़े गए अवैध डीजल कारोबारियों से स्थानीय थाने पर कड़ी पूछताछ की जा रही है जिससे उनके आकाओं तक पहुंच उनके ऊपर सख्त से सख्त कारवाई की जा सके तभी अवैध तरीके से बायोकेमिकल से डीजल बनाने का कार्य पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लग सकेगा।

About IBN NEWS

Check Also

कोठीभार थाने पर मनाया गया अंर्तराष्ट्रीय नशा मुक्ति दिवस

Ibn24×7news सिसवा बाजार महराजगंज रविवार को अंतर्राष्ट्रीय नशा मुक्त दिवस के अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.