Breaking News

लोक निर्माण मंत्री श्री जितिन प्रसाद ने बेलीकलां सम्पर्क मार्ग पर सेल ग्रिड का प्रयोग कर सी0सी0 रोड बनाये जाने के प्रयोगात्मक कार्य का किया शुभारम्भ

सेल ग्रिड तकनीक का प्रयोग कर कम लागत में मजबूत एवं टिकाऊ सी0सी0 रोड का होगा निर्माण
श्री जितिन प्रसाद

लखनऊ 01 जून 2023

उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री जितिन प्रसाद ने आज जनपद-लखनऊ में बेलीकलां सम्पर्क मार्ग पर सेल ग्रिड तकनीक का प्रयोग कर सी0सी0 रोड बनाये जाने के प्रयोगात्मक कार्य का शुभारम्भ किया। लोक निर्माण मंत्री ने इस अवसर पर कहा कि विभाग द्वारा लगातार नवीन तकनीकों के प्रयोग को बढ़ावा देकर उच्चस्तरीय सड़कों का निर्माण कराया जा रहा है। जिससे जहां एक तरफ़ सड़क निर्माण की लागत में कमी लायी जा रही है वहीं दूसरी तरफ़ उच्च गुणवत्तायुक्त सड़कों का निर्माण किया जा रहा है।
लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि मा० मुख्यमंत्री जी के कुशल नेतृत्व में पूरे प्रदेश में पर्यावरण अनुकूल ग्रीन तकनीक के प्रयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसी क्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा सीसी रोड निर्माण में सेल ग्रिड तकनीक के प्रयोग को प्रारम्भ किया जा रहा है।इस नयी तकनीक का प्रयोग कर कम लागत में मजबूत एवं टिकाऊ सी0सी0 रोड का निर्माण किया जा सकेगा है। इस तकनीक से बनी सीसी रोड यदि कहीं क्षतिग्रस्त होती है तो केवल क्षतिग्रस्त हिस्से को ही आसानी से रिपेयर भी किया जा सकेगा। सेल ग्रिड तकनीक से निर्मित सीसी रोड के सफल होने के बाद प्रदेश के अन्य हिस्सों में सीसी रोड का निर्माण कराया जाएगा। लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि सेल ग्रिड एक भरोसेमंद जी0ओ0 सिन्थैटिक प्रोडक्ट है जिसका सी0सी0 रोड के निर्माण में प्रयोग कर एनवायरमेंट को सुरक्षित रखा जा सकता है एवं सीसी रोड के निर्माण में उपयोग में लाए जाने वाले खनिजों के खनन में कमी लायी जा सकती है। सेल ग्रिड का प्रयोग कर सामान्य तकनीक से बनाये जा रहे सी0सी0 मार्ग की मोटाई में सामान्यतः 02.00 सेमी0 कम हो जाती है जबकि क्षमता उतनी ही होती है। सेल ग्रिड तकनीक का प्रयोग सामान्यतः 02 से 05 एम0एस0ए0 (मिलियन स्टैंडर्ड एक्सल) यातायात हेतु प्रयोग कर सी0सी0 रोड का निमार्ण कराया जाता है। सेल ग्रिड तकनीक का प्रयोग कर सी0सी0 रोड को इंटरलॉकिंग सिस्टम की तरह देखा जाता है। सेल ग्रिड का प्रयोग कर सी0सी0 रोड बनाये जाने की डिजाइन आई0आई0टी0 भुवनेश्वर द्वारा विकसित की गई है। इस तकनीक में एम0-30 ग्रेड के कंक्रीट का प्रयोग किये जाने की सलाह दी जाती है। इस तकनीक से बनाई गई कंक्रीट रोड की Modulus 2500 MPA तथा Poisson’S Ratio 0.25 है। सेल ग्रिड तकनीक से बनायी गई सीसी रोड़ सामान्य तकनीक से बनाये जाने वाले सी0सी0 रोड की मोटाई से 2.00 सेमी0 तक कम हो जाने से जो बचत होती है उसी बचत से सेल ग्रिड का प्रयोग कर लिया जाता है, इस हेतु किसी अतिरिक्त धन की आवश्यकता नहीं होती है।

About IBN NEWS

Check Also

गाजीपुर-स्थापित हुई महर्षि विश्वामित्र की मनमोहिनी प्रतिमा रामभक्तों में उत्साह दिन भर चला भण्डारा

टीम आईबीएन न्यूज राकेश की रिपोर्ट गाजीपुर: रामनवमी के पावन पर्व पर जनपद के राम …