Breaking News

जींद में होने वाली चेतावनी रैली ऐतिहासिक होगी:नरेश कुमार शास्त्री

 

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट

फरीदाबाद:सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष व नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य अध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने आज बड़खल झील स्थित ग्रेफाल्कन में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए दावा किया कि सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा द्वारा कल रविवार 28 मई को जींद के हुड्डा ग्राउंड में की जाने वाली चेतावनी रैली ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व होगी।

कर्मचारी चेतावनी रैली को ऑल इंडिया स्टेट गवर्नमेंट एम्पलाइज फेडरेशन के अध्यक्ष सुभाष लांबा,कोषाध्यक्ष शशीकांत राय, अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य अध्यक्ष मा.बलबीर सिंह, सीटू की राज्य प्रधान कॉमरेड सुरेखा आदि कई वरिष्ठ नेता संबोधित करेंगे। शास्त्री ने कहा कि सरकार ने 9 वर्ष के कार्यकाल में कर्मचारियों को पक्का करने की पॉलिसी बनाने की बजाय पूर्व में बनी पॉलिसियों को भी समाप्त कर दिया।

अनुबंधित पार्ट वन, पार्ट 2 में लगे कच्चे कर्मचारियों को ठेकेदारी प्रथा समाप्त करने का बहाना बनाकर हरियाणा कौशल रोजगार निगम का गठन कर हमेशा के लिए कच्ची नौकरी का कानून बना दिया। अब हरियाणा कौशल रोजगार निगम में छंटनी का दौर भी शुरू हो गया है, वही पड़ोसी राज्यों द्वारा पुरानी पेंशन को बहाल किया जा रहा है, लेकिन हरियाणा सरकार आज भी पुरानी पेंशन के मुद्दे पर जस की तस खड़ी हुई है।

सरकार की इन नीतियों से कर्मचारियों में भारी गुस्सा है। जिसका प्रकटिकरण कर्मचारी 28 मई को जींद चेतावनी रैली में करेंगे। श्री शास्त्री ने दावा किया कि इस रैली में हजारों की संख्या में कर्मचारी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि रैली के मंच से सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा बड़े आंदोलन का भी ऐलान करेगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस में नरेश शास्त्री के अलावा सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला प्रधान करतार सिंह जागलान,जिला सचिव युद्धवीर सिंह खत्री भी उपस्थित थे।

राज्य वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि रैली में एनपीएस रद्द कर पुरानी पेंशन बहाली,हरियाणा कौशल रोजगार निगम भंग कर सभी प्रकार के अनियमित कर्मचारियों को पक्का करने की पालिसी बनाने,नियमित होने तक समान काम समान वेतन व सेवा सुरक्षा प्रदान करने, राज्य कर्मियों के लिए अलग से वेतन आयोग का गठन करने,18 महीने के बकाया डीए का भुगतान करने,जन सेवाओं के निजीकरण पर रोक लगाने,नेशनल एजुकेशन पालिसी,लेबर कोड्स,बिजली संशोधन बिल 2022 को वापस लेने,खाली पड़े लाखों पदों को पक्की भर्ती से भरने,एक्स ग्रेसिया रोजगार स्कीम में लगाई गई शर्तों को हटाकर मृतक कर्मचारियों के आश्रितों को नौकरी देने,ट्रेड यूनियन एवं लोकतांत्रिक अधिकारों पर किए जा रहे हमलों पर रोक लगाने आदि मांगों को प्रमुखता से उठाया जाएगा।

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला प्रधान करतार सिंह व जिला सचिव युद्धवीर सिंह खत्री ने कहा कि फरीदाबाद से हजारों कर्मचारी जींद रैली के लिए अपने-अपने कार्यालयों से कूंच करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार रैली से सबक ले और कर्मचारियों की मांगों का समाधान करने की ओर बढ़े अन्यथा सरकार को बड़े कर्मचारी आंदोलन का सामना करना पड़ेगा।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विक्रम सिंह ने बूथ नंबर-154 में डाली अपनी वोट

  फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट   फरीदाबाद:जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विक्रम सिंह ने …