Breaking News

सीएम के निर्देश पर डीएम ने संभाली कमान, राम पथ बनाने के लिए घर-घर खटखटा रहे दरवाजा

अयोध्या ब्यूरो कामता शर्मा

अयोध्या

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से पहले बनकर तैयार होगा 800 मीटर में जन्मभूमि पथ, 1200 मीटर में भक्ति पथ और 13 किलोमीटर में रामपथ, सैकड़ों व्यापारी सड़क चौड़ीकरण हो रहे प्रभावित।
सीएम योगी के नाराजगी और सख्त निर्देश के बाद अयोध्या के चौड़ीकरण योजना की कमान जिलाधिकारी ने स्वयं संभाली है। नया घाट सहादतगंज तक 13 किलोमीटर के राम पार्क मार्ग निर्माण के लिए प्रभावित हो रहे व्यापारियों से डोर टू डोर मुलाकात कर रहे हैं और सहमति ले रहे हैं। दर्शन पूर्व में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दौरे के दौरान 6 वर्षों में कुछ ऐसा देखने को मिला जिसको लेकर प्रशासन को भी उम्मीद नहीं थी प्रशासन की कार्रवाई से नाराज व्यापारियों ने दुकानों को बंद कर विरोध जता रहे थे तो वहीं इस मामले से नाराज होने के बाद जब चल रहे कार्यों कभी निरीक्षण करने पहुंच गए तो वहां पर भी संतोषजनक कार्य नहीं मिला इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिया है और कहा कि होने वाले कार्यों की जवाबदेही भी अधिकारी स्वयं तय करे नही तो कार्रवाई की जाएगी।
राम के नगरी अयोध्या में रामपथ चौड़ीकरण का विरोध कर रहे व्यापारियों से जिलाधिकारी ने डोर टू डोर मुलाकात कर उनकी समस्या जानी और समस्या के निराकरण का प्रयास करने की कोशिश में है। सुबह 9:30 बजे से जिलाधिकारी अयोध्या के नयाघाट से रामपथ चौड़ीकरण की जद में आ रहे व्यापारियों और भवन स्वामियों से उनके दरवाजे पर मुलाकात की शुरुवात की और उनके आपत्तियों को बिंदुवार जाना समझा है जिलाधिकारी ने मौके पर ही व्यापारियों और भवन स्वामियों के समस्या का समाधान करने का प्रयास किया। तो इस दौरान कई व्यापारियों ने मुआवजे की रकम पर भी आपत्ति जताई तो पुणे मूल्यांकन कराए जाने की भी जिम्मेदारी ली है। जिलाधिकारी की मानें तो किसी भी व्यापारी का कोई भी नुकसान नहीं होने देंगे व्यापारियों को उनकी लागत के अनुसार मुआवजे की रकम दी जाएगी।
अयोध्या में मंदिर निर्माण के बाद श्रद्धालुओं की संख्या में कई गुना वृद्धि होने की उम्मीद जताई जा रही है श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मुख्य मार्ग से भगवान रामलला के परिसर तक जाने वाली जन्मभूमि मार्ग हनुमानगढ़ी से कनक भवन होते हुए राम जन्मभूमि पर तक जाने वाले को भक्ति मार्ग और सहादतगंज से लता मंगेशकर चौक नया घाट तक 13 किलोमीटर दूरी तक बनाए जा रहे मार्ग को राम पथ का नाम दिया गया है। और जन्मभूमि पथ और भक्ति पथ का निर्माण शुरू कर दिया गया है अब राम पथ का निर्माण किया जाना है राम पथ चौड़ीकरण में राम नगरी के कई व्यापारियों के प्रतिष्ठान और भवन आ रहे हैं जिसमे लगभग 1100 से लोगों से रामपथ के लिए रजिस्ट्री की जानी है। लेकिन अभी तक इस क्रम में मात्र 55 लोगों से ही अब तक रजिस्ट्री हो पाई है जिसको देखते हुए मुख्यमंत्री ने बीते दिनों अयोध्या दौरे पर समीक्षा बैठक के दरमियान अधिकारियों को जमकर नाराजगी जताई थी और कार्य पूरा करने के लिए डेडलाइन दिसंबर तक तय किया है।
जिलाधिकारी अयोध्या ने कहा कि व्यापारियों के साथ संवाद स्थापित करने का प्रयास किया जा रहा है कुछ मकान थे जो पुरानी और जर्जर नगर निगम में दर्ज है व्यापारियों के हर एक आपत्तियों पर पुनर्विचार किया जाएगा जिलाधिकारी ने कहा कि भवन स्वामी और व्यापारियों की जहां तक मदद होगी वो की जाएगी 10 राजस्व की टीमें बनाई गई हैं जिसमें लेखपाल आर आई रहेंगे जिलाधिकारी ने कहा कि दुकानदारों ने भी सहयोग का आश्वासन दिया है व्यापारियों और भांग स्वामियों ने कहा है कि कि हम 15 दिसंबर तक सभी दुकाने तोड़ देंगे राम पथ मार्ग की चौड़ीकरण की जग में आ रही अयोध्या धाम की दुकानों में आज और कल से ही तोड़ना शुरू कर दिया जाएगा सभी टीमें लगातार संवाद स्थापित करने का प्रयास कर रही है। और हम चाहेंगे कि सृजन के बीच की बाधाओं को समाप्त करके आगे बढ़ना है तभी एक बेहतर अयोध्या का निर्माण कर सकते हैं जिलाधिकारी अयोध्या ने कहा कि अयोध्या में पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ रही है नॉर्मल दिनों में 50 से 60 हजार श्रद्धालु प्रतिदिन आ रहे हैं और विशेष अवसरों पर 5 लाख की संख्या हो जा रही है इसके लिए मार्ग चौड़ीकरण और आधारभूत संरचना बहुत जरूरी है जिसके लिए सभी लोग तैयार है हम लोग एक साथ बैठकर सभी समस्याओं के समाधान के लिए आगे बढ़ेंगे एक एक दुकान पर हम लोग जा रहे हैं और जो भी उनकी समस्याएं हैं उसका निस्तारण करके आगे बढ़ेंगे।

About IBN NEWS

Check Also

चिकित्सा विभाग द्वारा संयुक्त रूप से किया गया कार्यशाला का आयोजन

  मुदस्सिर हुसैन IBN NEWS सड़क दुर्घटना/आकस्मिक समय मे जीवन रक्षा हेतु दिया गया प्रशिक्षण …