Breaking News

अब जनता करेगी फैसला एक परिवार का नही रहेगा बलिया लोस सीट पर कब्जा

रिपोर्ट: राकेश जनपद: गाजीपुर यू0पी0

एंकर: लोकसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद से हर सीट की सरगर्मी तेज हो गयी है। पूर्व प्रधानमंत्री रहे चन्द्रशेखर के जिले बलिया में भी भाजपा ने अपना प्रत्याशी बदलकर उनके पुत्र पूर्व समाजवादी नेता नीरज शेखर को भाजपा से प्रत्याशी बनाया हैं। जबकि समाजवादी पार्टी ने पूर्व प्रत्याशी सनातन पाण्डेय को मैदान में उतारा हैं। दोनो ओर से आरोप प्रत्यारोपों का दौर जारी है। जन सभाएं, नुक्कड़ सभाए, जनसम्पर्क, सबकुछ तेज हो गया है। सपा प्रत्याशी पिछली बार अपने साथ की गयी नाइंसाफी का हवाला देकर इस बार बड़ी जीत सुनिश्चित करने के लिये हर संभव प्रयास कर रहा है।

बी0ओ0-1: गठबंधन प्रत्याशी सनातन पाण्डेय की ओर से लगातार जनसम्पर्क किया जा रहा है और सपा कार्यकर्ताओं के साथ साथ अन्य वोटरों से भी मिलकर जीत सुनिश्चित करने के लिये ताने बुने जा रहे है। शनिवार को प्रसिद्ध महाहर शिवधाम पर पहुंचे सपा प्रत्याशी सनातन पाण्डेय ने कहा कि लोकतंत्र में सबको समान अधिकार हैं जबकि बलिया की सीट को एक परिवार अपनी निजी जागीर समझता है। जो आगे नही चलेगा। बलिया के साथ-साथ गाजीपुर जिले का जहूराबाद इलाका इसी लोकसभा क्षेत्र का है और पिछली बार भी इस इलाके ने सनातन पाण्डेय को एक लाख वोट दिया था और इस बार वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिये समाजवादी खेमा दिन रात एक किये हुये है।।

एफ0बी0ओ0: आपको बताते चले कि बलिया सीट से लोकसभा प्रत्याशी नीरज शेखर पहले सपा में थे, सांसद भी थे, लेकिन वी0आई0पी0 छवि के चलते आम जनता के करीब कभी नही आ पाये। चुनाव हार जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने नीरज को राज्यसभा नामित किया था और अब चुनाव की घोषणा होने के बाद बलिया सीट से सांसद रहे वीरेन्द्र सिंह मस्त का टिकट काटकर उन्हें प्रत्याशी बनाया है। इसलिये समाजवादी पार्टी अपनी जीत व जनता के उत्साह को देखकर काफी खुश है जबकि दल बदल अपनी कुर्सी बचाने के लिये संघर्षरत नीरज शेखर को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं कर रही है। देखना है इस बार बाजी कौन मारेगा।

About IBN NEWS

Check Also

वाराणसी:नरेंद्र दामोदर दास मोदी ने काल भैरव से ली अनुमति फिर भरा पर्चा भगवा रंग मे सराबोर हुई काशी

आईबीएन न्यूज : गंगा सप्तमी पर पीएम ने किया गंगा पूजन, गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ समेत …