Breaking News

चाहे कोई कुछ भी कर ले चिलुआताल में खनन का सिलसिला रहेगा जारी

 

रिपोर्ट ब्यूरो गोरखपुर

गोरखपुर। चिलुआताल थाना थाना क्षेत्र में अभी भी खनन का सिलसिला जारी है, जबकि इसके बारे में काफी ज्यादा चर्चाएं हुई। इस अवैध खनन को रोकने के लिए चाहे कोई एड़ी से चोटी तक जोर लगाए मगर चिलुआताल अंतर्गत अवैद्य खनन का सिलसिला जोर शोर से ही चलता रहेगा।
बता देना की अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने स्पष्ट कहा है, कि कहीं भी खनन की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए , अगर खनन की शिकायत मिलेगी तो उसे प्रशासन को ही दोषी मान जाएगा। मगर यह प्रशासन खनन माफियाओं से मिलजुल कर अवैध खनन माननीय मुख्यमंत्री जी के गृह जनपद गोरखपुर कि चिलुआताल इलाके में ही चला रहे है।
साथ ही साथ यह बता दें की अवैध खनन को रोकने के लिए जिलाधिकारी ने सभी प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि कहीं भी खनन ना हो इसकी रोकथाम के लिए थानेदार पूरी तरह से सतर्क रहे। मगर यहां चिलुआताल के थानेदार सतर्कता बैठने की जगह खनन माफियाओं से मेलजोल कर अच्छी खासी अवैद्य खनन की प्रतिक्रिया आगे बढ़ा रहे हैं।
चिलुआताल थाना क्षेत्र में खनन का काफी मामला सामने आया है। यहां पर रोहिन नदी के कछार में खनन माफियाओं द्वारा मनमानी तरीके से खनन कराया जा रहा है। नदी क्षेत्र के विभिन्न गांवों में ट्रैक्टर ट्राली पर मिट्टी लदवा कर अपने गंतव्य इलाके पर भेजा जा रहा है। बता दे की क्षेत्र के बालापार , महुआतर रामपुर-हमीनपुर में खनन का कारोबार खूब तेजी से चल रहा है।

चिलुआताल में रातो रात गाड़िया फर्राटे से चलती है।

दिन में तो चिलुआताल में अवैध खनन का सिलसिला जारी तो रहता ही रहता है मगर रात के अंधेरे में भी यह सिलसिला जारी रहने को दिखा, और खनन की मिट्टी से भरी ट्रैक्टर ट्रालियां को ऐसा नहीं है कि तैनात सिपाही एवं कोई भी पुलिस प्रशासन को ना दिखा हो पर क्या किया जाए सारे के सारे पुलिसकर्मी चिलुआताल अंतर्गत अवैध खनन को देख कर अपनी नजरें चुरा लेते हैं। और चुराए भी क्यों ना पुलिस प्रशासन भी तो खुद ही खनन माफियाओं से मेलजोल की है

About IBN NEWS GORAKHPUR

Check Also

अयोध्या में ट्रस्ट को सौंपी गईं शालिग्राम शिलाएं

अयोध्या ब्यूरो कामता शर्मा 51 वैदिक आचार्यों ने विधि विधान से किया पूजन-अर्चन नेपाल से …