Breaking News

गोरखपुर में कोरोना ने दी फिर दस्तक

64 दिन बाद मिला कोरोना का एक मरीज

कोरोना संक्रमित व्यक्ति खोराबार का रहने वाला है।

संक्रमित व्यक्ति 20 दिसंबर को कोलकाता से आया था।

ट्रैवेल हिस्ट्री के आधार पर करीब 60 लोगों के सैंपल भी लिए गए हैं।

रिपोर्ट ब्यूरो गोरखपुर

गोरखपुर जिले में कोरोना की दस्तक एक बार फिर हो गई है। 64 दिन बाद 50 साल का एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित मिला है। उसकी रिपोर्ट शनिवार की सुबह आई है। हालांकि राहत की बात यह है कि व्यक्ति अलक्षणिक है। इसकी वजह से उसका इलाज स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में घर पर ही चल रहा है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज की माइक्रोबायॉलोजी विभाग ने जीनोम सीक्वेसिंग के लिए नमूना भी ले लिया है। व्यक्ति के ट्रैवेल हिस्ट्री के आधार पर करीब 60 लोगों के सैंपल भी लिए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, खोराबार का रहने वाला एक व्यक्ति कोलकाता में काम करता है। वह 20 दिसंबर को कोलकाता से अपने घर आया था। आंख का ऑपरेशन कराने के लिए वह शुक्रवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के नेत्र रोग विभाग में गया।

एहतियात के तौर पर कॉलेज प्रशासन ने कोविड जांच के लिए उसका नमूना लिया। रिपोर्ट आने के बाद ऑपरेशन करने की बात कही। इस बीच शनिवार की सुबह उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद से हड़कंप मच गया है।

सीएमओ डॉ आशुतोष कुमार दुबे ने बताया कि उसके अंदर कोई भी कोविड के लक्षण नहीं है। अलक्षणिक होने की वजह से परिजन घर पर ले गए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम मामले की मॉनिटरिंग कर रही है। बता दें कि 21 अक्तूबर को इससे पूर्व संक्रमित मिला था। जिसका इलाज करीब 15 दिनों तक चला था।

60 लोगों के लिए गए हैं सैंपल
सीएमओ ने बताया कि ट्रैवेल हिस्ट्री के आधार पर उसके परिजनों समेत आसपास के रहने वाले करीब 60 लोगों के सैंपल अब तक ले लिए गए हैं। आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग भेजा गया है। इसकी रिपोर्ट रविवार तक आ जाएगी।

दो संक्रमित बीआरडी में हैं भर्ती
बीआरडी मेडिकल कॉलेज के 300 बेड के कोविड वार्ड में दो संक्रमित मरीज भर्ती हैं। दोनों देवरिया के रहने वाले हैं। इसमें एक कोलकाता से अपने दोस्त के घर आया था। इसके अलावा चार संदिग्ध भी कोविड वार्ड में भर्ती है। जिनकी रिपोर्ट दो बार निगेटिव आ चुकी है।

About IBN NEWS GORAKHPUR

Check Also

अयोध्या में ट्रस्ट को सौंपी गईं शालिग्राम शिलाएं

अयोध्या ब्यूरो कामता शर्मा 51 वैदिक आचार्यों ने विधि विधान से किया पूजन-अर्चन नेपाल से …