Breaking News

गोरखपुर विश्वविद्यालय को रसायन-शास्त्र में नेचर इंडेक्स से मिली 55वाँ स्थान: भौतिकी के शिक्षक का योगदान

रिपोर्ट ब्यूरो

गोरखपुर। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय ने क्यू एस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में देश में 96वीं रैंक और भौतिकी विभाग को पूरे देश में गुणवत्तायुक्त शोध पत्रों के प्रकाशन के लिए नेचर इंडेक्सिंग में 74 वीं रैंक मिलने के बाद से एक और कीर्तिमान स्थापित किया है। अब भौतिकी विभाग के सहायक आचार्य डॉ अम्बरीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा रसायन विज्ञान में शोध के लिए, रसायन क्षेत्र में विश्वविद्यालय को 55वाँ स्थान मिला है।
नेचर जर्नल विश्व की प्रतिष्ठित शोध पत्रिका है तथा इसी नेचर जनरल के एक अन्य भाग में जिसमें केवल 82 महत्वपूर्ण शोध पत्रिकाएं शामिल है उनके आधार पर विश्वविद्यालय एवं अन्य शोध संस्थानों तथा विभिन्न राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों में शोध की गुणवत्ता के आधार पर एक रैंकिंग निकाली जाती है।
नेचर इंडेक्सिंग में भौतिकी विभाग के सहायक आचार्य डॉ. अम्बरीश कुमार श्रीवास्तव के शोध पत्र को शामिल किया गया है। जो अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री में प्रकाशित हुआ हैं। इस सिंगल-ऑथर्ड शोध पत्र का शीर्षक “लिथीयटेड ग्रैफ़ीन क्वॉंटम डॉट एंड इट्स नॉनलिनीअर प्रॉपर्टीज़ मोडुलेटेड बाई सिंगल अल्कली ऐटम” है। डॉ. अम्बरीश का शोध क्षेत्र केमिकल फ़िज़िक्स है जो रसायन विज्ञान की परिधि में आता है। ज्ञात हो कि डॉ. श्रीवास्तव को लंदन की विश्व-प्रतिष्ठित संस्था रॉयल सोसायटी ऑफ़ केमिस्ट्री द्वारा अफ़िलीयट मेम्बर भी बनाया हुआ है।भौतिकी विभाग के कई शिक्षकों को डीएसटी एवं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की तरफ से उच्च गुणवत्ता शोध हेतु ग्रांट्स मिल चुकी है तथा उनके द्वारा निरंतर उच्च गुणवत्ता युक्त शोध पत्र प्रकाशित किए जा रहे हैं। भौतिकी विभाग की इस उपलब्धि पर कुलपति प्रो राजेश सिंह जी ने संकाय अध्यक्ष तथा विभागाध्यक्ष भौतिकी विभाग प्रो शांतनु रस्तोगी समेत सभी शिक्षकों को बधाई दी है। भौतिकी विभाग की उपलब्धि से पूरा विश्वविद्यालय परिवार गदगद है।

About IBN NEWS

Check Also

‘‘सभी का सभी से प्रेम-एकात्म मानवदर्शन‘‘: प्रो. उपेन्द्र नाथ त्रिपाठी क़

रिपोर्ट योगेश श्रीवास्तव गोरखपुर। दीनदयाल उपाध्याय शोधपीठ, पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती 25 सितम्बर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *