Breaking News

मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग कर चुनाव तैयारी कोविड-19 टीकाकरण पीएम स्ट्रीट वेंडर पीएम /सीएम आवास योजना का किया समीक्षा

10 जनवरी तक अभियान चलाकर छुट्टा गोवंशों को गो आश्रय केन्द्रों में भेजा जाये

लक्षित आयु वर्ग के शत-प्रतिशत लोगों को वैक्सीनेशन सुनिश्चित कराया जाये

सेकण्ड डोज के लिए ओवर ड्यू व्यक्तियों से सम्पर्क कर उनको वैक्सीनेट कराया जाये

कोरोना के प्रति आम जन-मानस को जागरूक किया जाये

एडीजी डीआईजी डीएम एसएसपी सीएमओ सीडीओ एडीएम प्रशासन/ वित्त सहित संबंधित अधिकारी रहे मौजूद

रिपोर्ट ब्यूरो गोरखपुर

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग कर गोरखपुर मंडल आयुक्त सभागार में मौजूद एडीजी जोन अखिल कुमार डीआईजी गोरखपुर परिक्षेत्र गोरखपुर जे रविंद्र गौड जिलाधिकारी विजय किरन आनंद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताडा सीडीओ इंद्रजीत सिंह अपर आयुक्त अजय कांत सैनी सीएमओ आशुतोष दुबे एडीएम प्रशासन पुरुषोत्तम दास गुप्ता एडीएम वित्त राजेश कुमार सिंह पुलिस अधीक्षक अपराध डॉ महेंद्र पाल सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारियों से चुनाव तैयारी कोविड-19 प्रबंधन व टीकाकरण जल मिशन प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स योजना स्मार्ट सिटी अमृत योजना स्वच्छ भारत मिशन नगरी व ग्रामीण स्वच्छता मिशन प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवास योजना निराश्रित गोवंश संरक्षण गेहूं व धान क्रय केंद्रों की स्थिति ठंड व शीतलहर से बचाव के अब तक किए गए उपाय आइजीआरएस मुख्यमंत्री संदर्भ तथा छात्रवृत्ति की समीक्षा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए नव वर्ष के प्रथम दिन प्रदेश सहित जनपद के समस्त अधिकारियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि चुनाव की घोषणा चुनाव आयोग कभी भी कर सकता है अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए चुनाव की तैयारियां में लग जाएं जिससे चुनाव आयोग की घोषणा होने के बाद चुनाव संबंधित सभी कार्य पूर्ण हुए रहे और चुनाव कराने में किसी को किसी प्रकार की असुविधा ना होने पाए कार्य योजना बनाकर आवश्यक कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि जिन जनपदों में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं, वहां पर जिलाधिकारी फील्ड विजिट कर जनता का फीडबैक प्राप्त करें।
उन्होंने यह भी कहा कि आइजीआरएस रैकिंग में सुधार हेतु जनपद द्वारा स्वास्थ्य एवं पोषण क्षेत्र में सुधार हेतु जनपदों द्वारा स्वास्थ्य एवं पोषण क्षेत्र में संचालित योजनाओं को कुशलतापूर्वक लागू किया जाये। शिक्षा क्षेत्र में सुधार हेतु जनपदों में विद्यालयों में बालिकाओं के लिए विशेष सुविधाओं की व्यवस्था, शौचालय, पीने के पानी एवं विद्युत व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाये माध्यमिक शिक्षा से लगाए उच्च शिक्षा के पात्र लाभार्थियों को छात्रवृत्ति उपलब्ध कराई जाए गेहूं क्रय केंद्रों पर शत प्रतिशत दिए गए लक्ष्यों को गेहूं की खरीदारी सरकार द्वारा निर्धारित मूल्यों पर किया जाए जिससे किसान लाभान्वित हो सके जिन क्रय केंद्रों द्वारा निर्धारित मूल्यों पर गेहूं की खरीदारी नहीं हो रही है उन क्रय केंद्र संचालकों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाए कृषि एवं जल संसाधन क्षेत्र में सुधार हेतु किसानों को जरूरी कृषि निवेशों यथा उन्नत बीज, उर्वरक, कीटनाशक दवाओं इत्यादि की उपलब्धता सुलभ करायी जाये। वित्तीय समावेशन के अन्तर्गत लाभार्थियों को अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, सूक्ष्म एवं लघु उद्यम हेतु मुद्रा लोन, जनधन योजना में खाता खोला जाना, बैंक खातों को आधार से जोड़ा जाना सुविधाएं सुलभ करायी जायें। कौशल विकास के अन्तर्गत युवाओं को कौशल प्रशिक्षण, रोजगार, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अन्तर्गत कमजोर एवं हाशिये वाले युवाओं को अल्प एवं दीर्घकालीन प्रशिक्षण प्रदान किया जाये। आधारभूत अवसंरचना क्षेत्र में व्यक्तिगत शौचालय, पेयजल, विद्युत संयोजन, ग्राम पंचायत स्तर पर इन्टरनेट कनेक्शन तथा काॅमन सर्विस सेन्टर, पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत सर्वऋतु मार्ग, आवास आदि सुविधाएं उपलब्ध करायी जायें क्योंकि यह सभी कार्य ग्रामीण जनता की सुविधा से सीधे जुड़े हुए हैं। उन्होंने डीएम से कहा कि छुट्टा पशुओं को 10 जनवरी तक अभियान चलाकर छुट्टा गोवंशों को गो आश्रय केन्द्रों में भेजने की व्यवस्था की जाये तथा सहभागिता योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों की संख्या बढ़ाई जाये। उन्होंने छुट्टा गोवंशों को आश्रय केन्द्रों तक पहुंचाकर ग्राम पंचायतों को छुट्टा गोवंशों से मुक्त कराने के लिए ग्राम प्रधानों एवं ब्लाॅक प्रमुखों में प्रतिस्पर्धा कराने का सुझाव दिया तथा इस में अच्छा कार्य करने वाले ग्राम प्रधानों एवं ब्लाॅक प्रमुखों को पुरस्कृत भी किया जाये।
उन्होंने डीएम से कहा कि वह स्वयं गो आश्रय केन्द्रों का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं को देखें तथा केन्द्रों में किसी भी प्रकार की कोई कमी न रहे। भूसा, चारा, पानी, शेड के साथ-साथ ठण्ड से बचाव व इलाज आदि की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित रहे। रैन बसेरों में रह रहे गरीब तबके के लोगों को कंबल उपलब्ध कराया जाए जिससे ठंडक से बचाव गरीबों का किया जा सके। कोरोना के मामले बढ़ने पर मुख्य सचिव ने वैक्सीनेशन की प्रगति बढ़ाने तथा निगरानी समितियों को सक्रिय करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जिन व्यक्तियों का सेकण्ड डोज ओवर ड्यू हो गया है, उनसे इन्टीग्रेटेड कन्ट्रोल रूम के माध्यम से सम्पर्क कर उनको सेकण्ड डोज दी जाये। कोरोना के प्रति जन मानस को जागरूक किये जाने पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लोगों को प्रेरित किया जाये तथा भीड-भाड़ वाले स्थानों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से जनता को जागरूक किया जाये। कानून व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देशित किया कि चुनाव में खलल डालने वाले अपराधी किस्म के व्यक्तियों को पाबंद किया जाए किसी भी थाना क्षेत्र में मादक पदार्थों की बिक्री नहीं होनी चाहिए उस पर शत-प्रतिशत रोक लगनी चाहिए महिला अपराध जैसे घटनाओं पर तत्काल रोक लगाई जाए छोटी से छोटी घटनाओं पर तत्काल वरिष्ठ अधिकारी पहुंचकर मामले की यथा स्थिति से अवगत होते हुए पीड़ित पक्ष से संपर्क कर न्यायोचित न्याय देने का कार्य करें।

About IBN NEWS GORAKHPUR

Check Also

चिकित्सा विभाग द्वारा संयुक्त रूप से किया गया कार्यशाला का आयोजन

  मुदस्सिर हुसैन IBN NEWS सड़क दुर्घटना/आकस्मिक समय मे जीवन रक्षा हेतु दिया गया प्रशिक्षण …