Breaking News

चंदौली : एसडीएम के आश्वासन पर खत्म हुआ खस्ताहाल सड़कों के खिलाफ धरना प्रदर्शन

रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव

खबर जनपद चंदौली के चहनिया चौराहे से है। जहां सकलडीहा – अलीनगर, सकलडीहा सैदपुर मार्ग एवं सकलडीहा – कमाल पुर होते हुए धीना मार्ग की खस्ताहाल सड़कों की वास्तविकता किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। स्थिति बद से बदत्तर होने पर आम आदमी के साथ सबका धैर्य जवाब दे गया, विकास की आस लगाए चेहरों पर आखिर तक उदासी ही मिली देखने को। मुद्दे की विभीषिका को लेकर शुक्रवार को सपा नेता मनोज सिंह काका के नेतृत्व में आमजन ने चहनीया चौराहे पर सड़क जाम कर धरना प्रदर्शन आरंभ कर दिया। इस दौरान सपा नेता/ कार्यकर्ता सहित आमजन के मुख से केवल सरकार के विरोध में जमकर बोल फूटे।
विदित हो कि इन सड़कों से ओवरलोड वाहनों का धड़ल्ले से आवागमन के पश्चात उक्त सड़कों की स्थिति बदतर हो गई। जिसके कारण आमजन को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लगातार क्षेत्रीय स्तर के नेताओं से लेकर प्रदेश स्तर तक लोगों ने इसके खिलाफ आवाज उठाई लेकिन सांत्वना पुरस्कार के सिवा कुछ न मिला। जब धैर्य जवाब दे गया तो लोग सपा के नेतृत्व में सड़क पर उतरकर सरकार विरोधी नारे लगाने लगे और सड़क जाम कर प्रदर्शन को विवश हो उठे। इस दौरान आंदोलनरत सपा नेता मनोज सिंह काका ने कहा कि प्रदेश सरकार सड़कों को गद्दा मुक्त करने का दावा करती है लेकिन यहां की सड़कों की हालत इस कदर है कि पैदल चलना भी दूभर है। जनपद में चंदौली से चहनिया, चहनिया से मुगलसराय सहित अन्य मार्गो की हालत वाहवाही लूटने वाले मुख्यमंत्री खुद आकर देख लें। प्रदेश सरकार केवल वाहवाही लूटने में व्यस्त है लेकिन हकीकत जुदा है। दो घंटे के ऊपर लगे इस जाम की विभीषिका इस कदर रही कि कई किलोमीटर गाड़ियों के पहिए थम गए वहीं जाम कि सूचना पर मौके पर पहुंचे एसडीएम सकलडीहा प्रेम प्रकाश मीणा के मान मनौव्वल और जल्द ही मार्गों के निर्माण के आश्वासन के पश्चात धरने पर बैठे लोग माने और सपा नेताओं द्वारा दिए गए मांग पत्र को लेकर शासन स्तर तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

75वां महोत्सव-भारत छोड़ो आंदोलन और अगस्त क्रांति से अवगत कराया

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट फरीदाबाद:आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के अंतर्गत गवर्नमेंट गर्ल्स सीनियर …

Leave a Reply

Your email address will not be published.