Breaking News

झाँसी – झाँसी की शान हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के जन्म दिन खेल दिवस पर शत शत नमन


Ibn24x7news रिपोर्ट – महेन्द्र सिंह सोलंकी ब्यूरो चीफ झाँसी
झाँसी 29 अगस्त। मेजर ध्यानचंद ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने भारत के राष्ट्रीय खेल हॉकी को न केवल अंतराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई अपितु राष्ट्रीय खेल हॉकी के गौरवशाली अतीत पर एक और नया इतिहास लिख दिया। यही वह कारण है जिसके कारण मेजर ध्यानचंद को हॉकी का जादूगर कहा जाने लगा। पूरी दुनिया जानती है कि मेजर ध्यानचंद को यदि हॉकी का पर्याय कहें तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।
भारत ने सर्व प्रथम 1928 के एम्सटर्डम ओलम्पिक में भाग लिया था। मेजर ध्यानचन्द भी इस दल के सदस्य थे। उस समय भारत की हॉकी टीम और मेजर ध्यानचंद का इतना दबदबा था कि तत्कालीन विश्व चैंपियन इंग्लैंड ने ओलिंपिक में भाग लेने से ही साफ़ मना कर दिया था। अपेक्षा अनुसार भारत ने एम्स्टर्डम ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीता और पूरे विश्व को दिखा दिया कि इंग्लैंड के डरने का क्या कारण था। तत्पश्चात 1936 के बर्लिन ओलम्पिक में हॉकी टीम की कप्तानी मेजर ध्यानचंद को मिली। दुबारा इतिहास लिखा गया और बर्लिन ओलिंपिक में भी भारत ने स्वर्ण जीता। तत्पश्चात 1948 के लन्दन ओलम्पिक में भारतीय टीम ने कुल 29 गोल करके पुनः स्वर्ण पदक जीता। 29 में से 15 गोल तो अकेले मेजर ध्यानचन्द के ही थे। कुल मिलाकर इन तीन ओलम्पिक की 12 मैचों में 38 गोल अकेले मेजर ध्यानचंद ने किये। 1926 से 1948 तक के खेल जीवन में मेजर ध्यानचन्द दुनिया के जिस देश में भी खेलने जाते थे , वहाँ दर्शक उनकी हॉकी की जादूगरी के क़ायल होकर उमड़ आते थे। उनकी फैन फॉलोविंग का आलम यह था कि आस्ट्रिया की राजधानी वियना के एक स्टेडियम में तो वहां की सरकार ने उनकी प्रतिमा ही स्थापित कर दी। 42 वर्ष की आयु में हॉकी के इस सर्वकालिक महापुरुष ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी से संन्यास लेकर राष्ट्रीय खेल संस्थान में हॉकी के प्रशिक्षक के रूप में कार्य किया। आपको भारत सरकार ने 1956 में ‘पद्मभूषण’ से सम्मानित किया। उनका जन्मदिवस 29 अगस्त भारत में ‘खेल दिवस’ के रूप में मनाया जाने लगा। सब कुछ अच्छा लगता है किन्तु मन में एक प्रश्न हर 29 अगस्त को अनायास आ ही जाता है कि क्या मेजर ध्यानचंद केवल पद्मभूषण के ही लायक थे? पता नहीं सरकार को ये कब समझ में आएगा कि वो भगवान् के बनाये सबसे उत्कृष्ट भारत रत्न थे।
भारत रत्न के हकदार पूरे विश्व में झांसी का नाम रोशन करने वाले 🏑हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की जयंती पर उन्हें शत-शत नमन।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

वाहन चेकिंग अभियान के तहत वाहनों की हुई जमकर चेकिंग

  ब्यूरो रिपोर्ट विकाश चन्द्र अग्रहरी IBN NEWS मिर्ज़ापुर मीरजापुर। अपर पुलिस महानिदेशक, यातायात एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *