Breaking News

देवरिया – शौचालय निर्माण में पैसा मांगे जाने पर ग्राम पंचायत सेकेटरी को निलम्बित करने के दिये निर्देश किसी भी स्तर से प्राप्त शिकायत निर्धारित समयान्तर्गत निस्तारण न किये जाने पर संबंधित के विरुद्व होगी कार्यवाही-डी0एम0

Ibn24x7news रिपोर्ट सुभाष चन्द्र यादव
देवरिया(सू0वि0) 18 सितम्बर। किसी भी स्तर पर प्राप्त हेने वाले शिकायतो के निस्तारण में समयबद्वता व गुणवत्ता में कोई समझौता नही किया जायेगा। इसके लिये नियमानुसार कार्यवाही करते हुए प्राप्त आवेदनो पर निस्तारण की कार्यवाही की जाय। साथ ही शिकायत कर्ता को इसके संबंध में अवगत कराया जाय जिससे वे पुनः परेशान न हो।
उपरोक्त निर्देश जिलाधिकारी अमित किशोर ने बरहज तहसील सभागार में आयोजित सम्पूर्ण समाधान के अवसर पर फरियादियो की समस्याओं को सुनते हुए संबंधितो को आवेदन पत्र प्राप्त कराते हुए दिये। साथ ही उन्होने कहा कि शासन द्वारा संचालित योजनाओं में शिथिलता/ अनियमितता किसी भी स्तर पर बर्दास्त नही की जायेगी। इसके लिये संबंधित अधिकारी/ कर्मचारी के विरुद्व शिकायत प्राप्त होने पर नियमानुसार कठोर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
श्री किशोर ने कमला देवी पत्नी रमेश पाण्डेय निवासी अमाव वरसाद के अवगत कराये जाने पर शौचालय निर्माण कार्य के लिए ग्राम पंचायत सेकेटरी द्वारा 2 हजार रुपये की मांग की जा रही है, जिसके कारण शौचालय नही बन पा रहा है, का संज्ञान लेते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिये कि नियमानुसार कार्यवाही करते हुए ग्राम पंचायत सेकेटरी को नियमानुसार कार्यवाही करते हुए निलम्बित करायें। जितेन्द्र सिंह पुत्र सचितानंद सिंह निवासी शाकीन ने बताया कि खलियान की भूमि पर परमानंद सिंह, बैजनाथ सिंह पुत्र अबधू सिंह द्वारा कब्जा किया जा रहा है, जिसे हटवया जाय, जिसपर जिलाधिकारी ने राजस्व निरीक्षक व क्षेत्रीय लेखपाल को निर्देश दिये कि प्रकरण की जाॅच कर भूमि से अतिक्रमण हटवाये। सिहांसन पुत्र भूपराज निवासी मौना गढवा तपा रायपुरा ने बताया कि मौना बेरिया राजा तपा रायपुरा में नीलामी की जमीन ली थी जिसका दाखिल खारीज होकर खतौनी में नाम चढ चुका है, परन्तु कब्जा अभी तक नही दिलाया गया है। लगभग 9 वर्ष हो चुके है। जिसपर तहसीलदार द्वारा स्टे भी दे दिया गया है, मुझे कब्जा दिलाया जाय, जिसपर जिलाधिकारी ने तहसीलदार व थानाध्यक्ष भलुअनी को संयुक्त रुप से प्रकरण की जाॅच कर नियमानुसार निस्तारण कराने के निर्देश दिए। शैलेश कुमार शर्मा एडवोकेट निवासी पिपरा भुल्ली ने बताया कि आम रास्ते पर नाली ढस गयी है, जिससे पानी भरा रहता है व गन्दगी फैली रहती है, कृपया इसमें पाईप डलवाकर पानी को पोखरी में डलवाया जाय, जिससे आने जाने में परेशानी न हो। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी भगलपुर को तत्काल मामले की संज्ञान लेकर नियमानुसार कार्यवाही करने का निर्देश दिए।
सुभाषचन्द्र जायसवाल(दिव्यांगजन) पुत्र स्व0 प्रेमचन्द्र जायसवाल ने आवेदन देते हुए बताया कि उनका लडका विजय कुमार व उनकी पत्नी ममता मुझे घर से निकाल रहे है, जिसके लिये हमारे साथ मारपीट भी करते हुए, मुझे न्याय दिलाया जाय, जिसपर जिलाधिकारी समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये कि तत्काल वरिष्ट नागरिक भरण पोषण नियमावली के तहत उप जिलाधिकारी के कोर्ट में कार्यवाही कर प्रार्थी को अनुतोष दें। साथ ही दिव्यांगजन विकास अधिकारी को नियमानुसार व्हील चेयर मुहैया कराने के निर्देश दिये। राजकुमार सिंह पुत्र रास विहारी सिंह निवासी शाकिल पैना बरहज ने बताया कि सरकारी नलकूप किनारी टूटी है, जिससे फसल सुख रही है व व्यक्तिगत नलकूपो की बोरिंग फेल हो चुकी है, इस हेतु सरकारी नलकूप के पानी हेतु अण्डर ग्राउण्ड नाली बनवा दी जाये जिससे फसल को पानी मिल सके। जिलाधिकारी खण्ड विकास अधिकारी बरहज को निर्देश दिये कि मनरेगा के अन्तर्गत नाली निर्माण कराकर सरकारी नलकूप से पानी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने सभी संबंधितो को स्पष्ट निर्देश दिये कि जो शिकायती आवेदन पत्र आपलोगो को मिलते है, उनका निस्तारण गुणवत्ता के साथ हो, जिससे किसी प्रकार की कोई शिकायत न मिले, साथ ही उन्होने कहा कि क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान आप सभी लोग अधिक से अधिक जन कल्याणकारी लाभपरक योजनाओं की जानकारी जनसामान्य को दें, जिससे वे नियमानुसार कार्यवाही कराते हुए योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सके। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर कुल 105 मामले प्राप्त हुए, जिनमें से 6 का मौके पर निस्तारण किया गया। उक्त के पूर्व जिलाधिकारी ने तहसील परिसर में विभिन्न विभागो का लगाये गये पंजीकरण स्टालो यथा- स्वास्थ्य, आपूर्ति, विधुत, राजस्व, आॅगनवाडी तथा विकास विभाग का अवलोकन किया तथा निर्देश दिए कि इस कार्य के साथ साथ शिकायतकर्ताओं के पंजीकरण हेतु और अधिक कर्मचारी लगाये, जिससे कार्य तेजी से सम्पन्न हो सके।
पुलिस अधीक्षक एन0 कोलान्ची ने पुलिस से संबंधित शिकायतो को सुनते हुए थानाथ्यक्षो को प्रार्थना पत्रो को नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश देते हुए कहा कि निस्तारण के कार्य में किसी प्रकार की कोई अनियमितता न बरती जाये। यदि कोई कोई शिकायत अनियमितता से संबंधित प्राप्त होगी तो उसे बख्शा नही जायेगा।
उक्त अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 धीरेन्द्र कुमार, प्रभारी निदेशक सामाजिक वानिकी पी0के0 गुप्ता, उप जिलाधिकारी विनित कुमार सिंह, जिला विकास अधिकारी श्रीकृष्ण पाण्डेय, क्षेत्राधिकारी पुलिस सीताराम, एस0ओ0सी0 चकबन्दी अशोक सिंह, ए0आई0जी0स्टाम्प राधाकृष्ण मिश्र, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी सचितानंद सहित विभिन्न विभागो के अधिकारी व कर्मचारी गण उपस्थित रहे।
प्रचारित प्रसारित द्वारा सूचना विभाग-देवरिया

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

नवनिर्वाचित विधान परिषद सदस्य डॉ धर्मेन्द्र सिंह के गोरखपुर प्रथम आगमन पर स्वागत

  रिपोर्ट ब्यूरो   गोरखपुर। भाजपा गोरखपुर के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं निर्विरोध नवनिर्वाचित विधान परिषद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.