Breaking News

सोनपुर : अवैध वसूली से नो एंट्री में होती है इंट्री, जेपी सेतू पर जाम से यात्री परेशान

अवैध वसूली से नो एंट्री में होती है इंट्री, जेपी सेतू पर जाम से यात्री परेशान
सोनपुर –आज शनिवार को सोनपुर जेपी सेतू पर एक बार फिर नो एंट्री का उल्लंघन होने के कारण लंबे जाम की स्थिति रोज बन गई. इसके कारण परिचालन पूरी तरह से ठप्प हो गया. जेपी सेतू से लेकर NH19 तक वाहनों की लंबी लाइन लग गई\
जेपी सेतू पर लगी जाम की वजह से बजरंग चौक, गोविंद चक, पहलेजा, छपरा रूट,हाजीपुर , सोनपूर, छपरा का परिचालन बुरी तरह से ठप्प हो गया है. अहले सुबह से ही जाम की स्थिति पैदा हो जाती है. सुबह ऑफिस व स्कूल जानें वाले बच्चों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है. लोगों ने बताया कि ऐसा रोज होने लगा है और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है. स्थानीय जनता में इसको लेकर काफी गुस्सा देखा जा रहा है|
बता दें कि दस दिन पहले भी ऐसा ही जाम लगा था. जिसमे ट्रक व बोलरों के ओभर टेक के कारण एक बच्ची बुरी तरह से घायल हो गई थी । साथ ही लोगो ने यह भी बताया कि अबैध बालू खनन कर पटना से छपरा ,सोनपुर से पटना रोज रात्री में ट्रक व ट्रैक्टर चालक के पुलिस के मिलीभगत से बालू के कारोबार धड़ले से चल रही है और सरकार को लाखों रुपए की हानि हो रही है । इतनी अधिक बड़ी गाड़ी चलती है कि कुछ ही साल में गाँधी सेतु जैसा विकट समस्या उतपन्न न हो जाय । इस बात की जब जाँच- पड़ताल की गई तो पता लगा कि पुलिस पैसे लेती है और ट्रक चालक नो इंट्री नियम का सीधा उल्लंघन करते हैं|
आज भी कुछ चालकों ने दबी जुबान में बताया कि ट्रक पटना से जेपी सेतु पुल पर लाने के क्रम में पुलिस का नजराना 200 सौ से 500 रुपया तक होती है.जो दोनों छोर पर देनी पड़ती है ।
हालांकि, जाम की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंची और स्थिति को संभालने में लग गयी.उपस्थित लोगों ने बताया कि इस तरह की शिलशिला बराबर चलती रहती है । कभी भी बड़ी हादसा होने की संभावना है । लेकिन पैसे के आगे प्रशासन सड़क मार्ग के नियमो को धज्जियां उड़ा रही हैं ।
 
रिपोर्ट राजीव रंजन ibn24x7news सिवान ( बिहार )

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

मोहर्रम मे खलल : ताजिया के विवाद मे तडतडाई गोलिया शहर मे मची भगदड तीन लहुलुहान

  गाजीपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के उदयपुर मोहल्ले में सोमवार की शाम 8 बजे दो …

Leave a Reply

Your email address will not be published.