Breaking News

विधायक के दबाव में थानाध्यक्ष ने तहरीर बदल कर पीड़ित पत्रकार का लिखा मुकदमा, पुलिस द्वारा बदली गई तहरीर पर पत्रकार का हस्ताक्षर फर्जी

विधायक के दबाव में थानाध्यक्ष ने तहरीर बदल कर पीड़ित पत्रकार का लिखा मुकदमा, पुलिस द्वारा बदली गई तहरीर पर पत्रकार का हस्ताक्षर फर्जी
मीरजापुर  – मिर्ज़ापुर पत्रकार प्रेस क्लब के जिलाध्यक्ष साजिद अंसारी ने अपने मिर्ज़ापुर के पत्रकार साथियो के साथ जौनपुर के घटना को घोर निंदा करते हुऐ उत्तर प्रदेश सरकार से जौनपुर की घटना को संज्ञान में लेते हुये दोषी बिधायक के गुर्गे को जल्द से जल्द कारवाही करे नही पुरे उत्तर प्रदेश पत्रकार एक बड़ा आंदोलन के बाध्य होंगे।और मामले को दबाने और गलत तरीके से पत्रकार की रिपोर्ट बदलकर पत्रकार के ही ऊपर रिपोर्ट लिखने पर नेवढ़िया थानाध्यक्ष को सस्पेंड किया जाय।
जौनपुर। जिले के एक सत्ताधारी विधायक के दबाव में नेवढ़िया थाना अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने कानून का माखौल उड़ाते हुए सी न्यूज जौनपुर के ब्यूरो चीफ पीड़ित पत्रकार पंकज भूषण मिश्र वह उनके अन्य पत्रकार साथी के खिलाफ ही मनगढ़ंत झूठी तहरीर के आधार पर घर में घुसकर तोड़फोड़ गाली गलौज एवं जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज करवा दिया है।जबकि पत्रकार पंकज भूषण मिश्र के साथ पिछले 8 जुलाई को नेवढ़िया थाना क्षेत्र के तिवरान गांव में एक विवादित भूखण्ड पर पहुँच कर बिजुअल बाइट बनाते समय तीन बदमाशो ने गाली गलौज तथा जान से मारने की धमकी देते हुए कीमती कैमरा छीन कर भाग गए थे।
इस मामले में भुक्तभोगी पत्रकार पंकज भूषण मिश्र ने थानाध्यक्ष नेवढ़िया,एसपी देहात एवं एसपी को प्रार्थना पत्र देकर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा कर आरोपियों कार्यवाई की मांग किया था।परन्तु पुलिस अधिकारियो ने भाजपा विधायक के दबाव में आकर मुकदमा दर्ज नही किया।सोशल मीडिया में मामला जब वायरल हुआ तो नेवढ़िया थानाध्यक्ष ने ने एक महीने बाद यानि 8 अगस्त को पंकज भूषण मिश्र को थाने पर बुलवाकर एक नामजद व दो आरोपियों दो अज्ञात आरोपियों के खिलाफ 504, 506,427 आईपीसी का मुकदमा दर्ज कर दिया।आश्चर्य की बात तो यह है कि थानाध्यक्ष द्वारा बदली गई तहरीर पर पीड़ित पत्रकार पंकज भूषण मिश्र का हस्ताक्षर ही फर्जी है।
वही विधायक के दबाव में आरोपियों के झूठी तहरीर पर पत्रकार पंकज भूषण मिश्र व एक अन्य पत्रकार साथी के खिलाफ धारा 323, 504, 506, 427, 352, 452 आईपीसी का मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।विधायक के नाक का सवाल यह बना था कि पत्रकार के तहरीर पर उनके गुर्गो के खिलाफ किसी कीमत पर मुकदमा दर्ज नही होगा।लेकिन पत्रकार की तहरीर बदलकर मुकदमा दर्ज होने की बात को भी विधायक जी पचा नही पाये।उल्टे ही सत्ता की हनक दिखाते हुए बदले की भावना से पत्रकार द्वय के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करवा दिए।विधायक व पुलिस के इस भ्रष्ट करतूतो से समूचे पत्रकारो में आक्रोश व्याप्त है।
 
रिपोर्ट विकास चन्द्र अग्रहरि ibn24x7news मिर्जापुर

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

हरिजन बस्ती की जमीन को भूमाफिया ने जबरन किया कब्ज़ा

  रिपोर्ट रमेश चन्द्र त्रिपाठी   गोरखपुर। सहजनवां तहसील अंतर्गत गीडा थाने में ग्राम बोक्टा …

Leave a Reply

Your email address will not be published.