Breaking News

विंध्याचल/मिर्जापुर :-विभागीय आपसी होड़ में शिवपुरी वार्ड रहा योजनाओं से वंचित


जगत जननी माता विंध्यवासिनी की पावन नगरी में इन दिनों विभागीय आपसी होड़ के कारण शिवपुर वार्ड से सटे मात्र दस मीटर की दूरी पर शिवपुर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सरकारी योजनाओं का मार झेल दंश के रूप में कई योजनाओं से वंचित साबित हो रहा है गौरतलब है कि विंध्याचल लगभग पच्चीस हजार से अधिक आबादी वाला क्षेत्र है जहां पर पशु चिकित्सा व्यवस्था हेतु एक राजकीय पशु चिकित्सालय शिवपुर अपनी जर्जर स्थिति की बदहाल जिंदगी को आबाद करने का भरपूर प्रयास करने के साथ सरकारी योजनाओं की बाट जोह रहा है तो वहीं शिवपुर वार्ड से सटे मात्र दस मीटर पर बने विंध्य विकास प्राधिकरण द्वारा सुलभ शौचालय अपनी संस्कृति विरासत दासता को बयां करते हुए जर्जर किले के रूप में स्थानीय लोगों द्वारा अवैध कब्जे के रूप में पशुपालन का बखूबी कार्य चलने के साथ सुलभ कांप्लेक्स परिषद के अंदर कूड़े करकट का अंबार भरा पड़ा हुआ है। तो वहीं विभागीय लापरवाही के कारण यहां की जर्जर पशु चिकित्सालय समेत सुलभ कंपलेक्स के रूप में जर्जर ढांचा बनकर खड़ा सुलभ शौचालय सरकारी योजनाओं की बाट जोह स्थानी प्रतिनिधियों के अपेक्षाओं का शिकार होकर रह गयी।
*सरकारी बंजर जमीन पर हो रहा है अवैध कब्जा*
शिवपुर बाजार स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर की बात की जाए तो यह मंदिर प्राचीन होने के साथ स्थानीय लोगों की आस्था और विश्वास का प्रतीक है वहीं स्थानीय भू माफियाओं द्वारा मंदिर परिसर से सटे हुए खाली जमीनों पर अवैध निर्माण कर स्थानीय लोगों द्वारा कब्जा करने का प्रयास निरंतर प्रयास किए जाने के साथ अवैध कब्जा किया जा रहा है तथा क्षेत्र में रहने वाले लोगों की माने तो ग्राम सभा शिवपुर समेत शिवपुर वार्ड में सड़क ,पेयजल ,बिजली आवास, शौचालय समेत कई योजना से स्थानीय लोगों को सरकारी योजनाओं से वंचित रखा गया तो वहीं स्थानीय भू माफिया द्वारा अवैध रूप से सुलभ शौचालय कांप्लेक्स के अंदर बकरे बकरी गाय भैंस बांधने के साथ आस पास की सरकारी जमीनों पर अवैध रूप से कब्जा किया जा रहा है।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

अयोध्या – इज्जत बचाने में जान गवाने वाले युवती का मामला

अयोध्या ब्यूरो कामता शर्मा अयोध्या।इज्जत बचाने में जान गवाने वाले युवती का मामला।परिजनों ने युवती …

Leave a Reply

Your email address will not be published.