Breaking News

लखीमपुर खीरी – अधाधुंध सरकार भ्रष्ट मलाई खाए, लिधियाई ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री आवास घोटाला


*संवाददता मोहम्मद असलम*
*लखीमपुर-खीरी*– भले ही जिलाधिकारी खीरी शैलेंद्र सिंह ग्राम पंचायतों में किए जा रहे घोटालों के प्रति खासे संजीदा रहते हुए,अपने जिम्मेदार मातहतों को जांच करने तथा कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दे रहे हो, पर इन के आदेशों का असर जिला विकास अधिकारी व खंड विकास अधिकारी पर पड़ता नजर नहीं आ रहा है, उक्त जिम्मेदार भ्रष्टाचार की वैतरणी में गहरे गोते लगा कर आरोपी व घोटालेबाज ग्राम प्रधानों,पंचायत सचिवों को बचाने के लिए मनमानी जांच करके ग्रामीणों की आशाओं का गला घोट रहे हैं और आरोपियों को अभय दान देकर अपनी अपनी जेबें गर्म करते देखे जा सकते हैं, इसका ज्वलंत उदाहरण विकास खंड पसगवां कि घोटाले के लिए बहुचर्चित ग्राम पंचायत जमुनिया शहबाज में देखा जा सकता है, इस ग्राम पंचायत की जांच के लिए नामित जांच अधिकारी जिला विकास अधिकारी अनिल सिंह द्वारा दिनांक 15 अक्टूबर को जांच की गई, जांच के दौरान दर्जनों लोगों ने अपने अपने लिखित बयान शपथ पत्र के माध्यम से दिए लेकिन पहले से मैंनेज जांच अधिकारी ने ग्रामीणों द्वारा सौंपे गए प्रार्थना पत्रों को नहीं लिया और न ही उनको अपनी जांच में ही शामिल किया जिससे आक्रोशित ग्रामीणों व प्रधान पक्ष के लोगों के मध्य जमकर ईंट पत्थर चले जिससे दोनों पक्षों के लोग भी घायल हुए,यदि जांच अधिकारी शपथ पत्रों को जांच में शामिल करते और जांच का विषय बना लेते तो शायद यह घटना नहीं हटती यह ग्रामीणों का कथन है।
घोटाले का सबसे गर्म व ताजा मामला इसी विकासखंड की ग्राम पंचायत लिधियाई मे देखने को मिला है,जहां पर ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सचिव तथा प्रधान पुत्र गौरव शुक्ला ने मिलीभगत करके फर्जीवाड़े की सारी हदें पार करते हुए दूसरे का आवास पैसा लेकर किसी दूसरे को दे दिया, क्रम संख्या 9 पर आवास लाभार्थिनी गुड्डी देवी पत्नी श्री पाल पुत्र पूरन का आवास आया था जिसकी पुष्टि फैमिली आईडी सूची से होती है और प्रधान पुत्र गौरव शुक्ला ने दूसरे लाभार्थी से मोटी रकम वसूल कर दूसरी लाभार्थी के नाम आवास आईडी बदल कर दे दिया। क्रम संख्या 14 पर दर्ज दिनेश शुक्ला को आवास दिया गया जो कहां बना है,तथा यह कारखाना मालिक है जिसकी पुष्टि इनके बिजली बिल 25, 000 हजार रुपये मासिक से की जा सकती है, अपात्र व्यक्ति है धन बल के आधार पर आवास दिए गए, तीसरे आवास सूची में दर्ज क्रम संख्या 25 पर होरी लाल पुत्र महादेव जो कि कच्चा मकान धारक है छत विहीन पात्र व्यक्ति है इसका नाम हटाकर उसका आवास क्रम संख्या 26 पर दर्ज लाभार्थी मुकेश पुत्र जयलाल को दे दिया गया, प्रधानमंत्री आवास सूची में धाधली करने वाले प्रधान पुत्र गौरव शुक्ला व ग्राम पंचायत अधिकारी देवेंद्र कुमार के विरुद्ध दिनांक 27-9-2018 को मय शपथ पत्र के शिकायत की थी और शासन स्तर को भी कई शिकायतें भेजी गई पहले से सुविधा शुल्क लिए बैठे जिला विकास अधिकारी मामले की जांच करने से कतरा रहे या फिर जमुनिया सहबाज की घटना को दोहराते हुए आरोपी गौरव शुक्ला व पंचायत सचिव को अभय दान दे देंने मे लगे हैं।
*मुख्य विकास अधिकारी*-9454465381
*परियोजना निदेशक*–9454465382
*खण्ड विकास अधिकारी पसगवाँ*–9454465383
*जिलाधिकारी खीरी*–9454417558
*ग्राम पंचायत अधिकारी लिधियाई*–9956132461

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

वाहन चेकिंग अभियान के तहत वाहनों की हुई जमकर चेकिंग

  ब्यूरो रिपोर्ट विकाश चन्द्र अग्रहरी IBN NEWS मिर्ज़ापुर मीरजापुर। अपर पुलिस महानिदेशक, यातायात एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *