Breaking News

यूपी सरकार  ने  हर  क्षेत्र में  किया अनूठा  काम : डा दिनेश शर्मा

 Ibn news रिपोर्ट सुभाष चंद्र लखनऊ

प्रधानमंत्री ने वाराणसी में अभूतपूर्व विकास कार्य किया है।

सरकार के खिलाफ रची जा रही है  दुष्प्रचार की साजिश 

काशी में देखते ही बनती है बाबा के धाम की अनूठी छटा 

विपक्षी दलों के लिए  तुष्टीकरण  चुनाव में जीत का  मार्ग  

उत्तर प्रदेश विकास की दौड में सबसे आगे

डिफेन्स कारीडोर और एक्सप्रेस वे लाएंगे रोजगार के  नए अवसर 

विधानसभा का  चुनाव राष्ट्र व प्रदेश निर्माण का चुनाव

सरकार अराजक तत्वों से सख्ती से निपटेगी

लखनऊ / जौनपुर ।
 उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने वाराणसी की दशा और दिशा को बदल दिया है। यह गर्व कर विषय है कि प्रधानमंत्री संसद में उत्तर प्रदेश के वाराणसी का प्रतिनिधित्व करते हैं। प्रधानमंत्री ने चुनाव जीतने के बाद पहली बार  लोकतंत्र के मंदिर संसद भवन को प्रणाम करते हुए खुद को जनता का सेवक कहा था। जब एक सेवक जनता के लिए काम करता है तो उस देश और प्रदेश की अलग पहचान बन जाती है। वाराणसी में छोटी सी गली में बाबा का धाम था  पर   आज वहां  भव्य कारीडोर बन चुका है। प्रधानमंत्री 13 दिसम्बर  को उसका लोकार्पण करेंगे। बाबा के धाम की अनूठी छटा देखते ही बनती है।  

शाहगंज विधानसभा, जनपद जौनपुर में विभिन्न योजनाओं के लोकार्पण शिलान्यास के अवसर पर आयोजित सभा में उन्होंने कहा कि यूपी सरकार ने स्वास्थ्य, सुरक्षा, शिक्षा, अवस्थापना, विकास सहित हर  क्षेत्र में अनूठा काम किया है। आज उत्तर प्रदेश विकास की दौड में सबसे आगे है।  पिछली सरकारों के समय में योजनाओं के क्रियान्वयन में फिसड्डी रहने वाला उत्तर प्रदेश आज 44 केन्द्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन में पहले स्थान पर है। इसका प्रमुख कारण है कि एक क्षमतावान नेतृत्व में प्रदेश को पारदर्शी और ईमानदार सरकार मिली है।
डा शर्मा ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश का सौभाग्य है कि यहां पर डबल इंजन की सरकार है। केन्द्र व राज्य के बीच का तालमेल अन्य  राज्यों के लिए उदाहरण है। इस तालमेल के चलते केन्द्रीय योजनाओं का प्रदेश में तेजी से क्रियान्वयन हो रहा है जिसका सीधा लाभ जनता को मिलता है। आज ईज ऑफ डूईंग बिजनेस में यूपी दूसरे स्थान पर है। प्रदेश में साढे चार लाख अड़सठ करोड से अधिक के निवेश प्रस्ताव आए जिनमें से तीन लाख करोड से अधिक के प्रस्तावों पर कार्य आरंभ हो गया है। उन्होंने कहा कि युवाओं के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए सरकार तेजी से काम कर रही है। साढे चार लाख लोगों को सरकारी नौकरी ,साढ़े तीन लाख लोगो को संविदा पर नौकरी देने के  साथ ही दो करोड लोगों के लिए ओडीओपी के तहत रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं। सरकार नौकरी देने में  परदर्शी व्यवस्था अपनाई गई है। पहली बार योग्यता को प्रोत्साहन मिला है। डिफेन्स कारीडोर और एक्सप्रेस वे तरक्की की नई इबारत लिखने के साथ ही रोजगार के अवसर लाएंगे। डिप्टी सीएम ने कहा कि  विपक्षी दलों ने तुष्टीकरण को चुनाव में जीत का  मार्ग बना लिया था। साम्प्रदायिक कहलाये जाने  के डर से मंदिर जाने और कलावा बंधवाने से भी बचा जाता था। भारत की संस्कृति का प्रतिपादन करने वाले बहुसंख्यकों का अपमान होता था। उन्होंने कहा कि विपक्ष को केवल विरोध के लिए विरोध नहीं करना चाहिए। अगर सरकार सकारात्मक कार्य  करे तो उसे जनता की सेवा करनी चाहिए। आज सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार की साजिश रची जा रही है। लोगों को आपस में लडाने की कोशिश हो रही है। पहले लोगों को जातियों और सम्प्रदाय में बांट कर व उनका तुष्टीकरण करके चुनाव लडे जाते थे। चुनाव जीतकर सत्ता में आना ही लक्ष्य होता था। प्रदेश का सुनियोजित विकास उन सरकारों की प्राथमिकता नहीं थी। इसके विपरीत आज प्रदेश में सुनियोजित विकास हो रहा है। पांच एक्सप्रेस वे , 6 स्थानों पर मेट्रो , 250 माध्यमिक विद्यालय, 77 डिग्री कालेज , 12 विश्वविद्यालय की स्थापना विकास की एक झलक है। वर्तमान सरकार ने जो कहा था उससे अधिक काम किया है। विधानसभा का यह चुनाव राष्ट्र व प्रदेश निर्माण का चुनाव है। वर्तमान सरकार ने दीपोत्सव, रंगोत्सव, काशी कारीडोर  के निर्माण  सहित तमाम योजनाओं व कार्यक्रमों से भारत की संस्कृति को बढाने  का काम किया है। पिछली सरकारों के समय में पहले कावड यात्रा, रामलीला दुर्गा पूजा पर कर्फ्यू लग जाता था। अब कांवड यात्रा पर पुष्प वर्षा होती है। सभी जाति धर्म के त्योहार शांतिपूर्वक मनाया जाते हैं ।सरकार ने विकास में कोई भेदभाव नहीं किया है। उन्होंने कहा कि माफियाओं ने  लोगों का जीवन कठिन कर दिया था। इस सरकार ने लोगों को माफियाओं से मुक्ति दिलाकर कानून का राज स्थापित किया है। यूपी में पहले माफिया की सवारी निकलती थी पर अब वे जेल में हैं। चुनाव नजदीक आते ही अराजक तत्व बिल से बाहर आने लगे हैं। यह सरकार ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटेगी। इस प्रदेश में अराजक तत्वों के लिए कोई जगह नहीं है। यहां के लोगों के हाथ में तमंचा नहीं कलम होगी। महिलाओं के खिलाफ आंख उठाने वालों को कठोरतम दंड मिलेगा। उन्होंने कहा कि किसान की तरक्की के लिए सही मायने में केवल मोदी योगी सरकार ने काम किया है। अन्नदाता की आमदनी को दोगुना करने के लिए किसान सम्मान निधि से लेकर कृषि यंत्रों  पर सब्सिडी  जैसे तमाम कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। बसपा सपा की सरकारों ने चलती हुई चीनी मिलें बेची थीं या बंद किया था ,जबकि भाजपा सरकार ने चीनी मिलों को पूरे कार्यकाल में चलाया है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों के समय में  जौनपुर में अवस्थापना सुविधाए दुर्दशा की शिकार थीं। तब  बिजली आना  खबर बना करती थी। माताओं बहनों को नित्य कर्म से निवृत होने के लिए अंधेरा होने का इंतजार करना पडता था। महिलाओं के गरिमा और सम्मान से जुडी इस समस्या की ओर पूर्व की सरकारों ने कोई ध्यान नहीं दिया । प्रधानमंत्री ने इसके निराकरण के लिए घर घर शौचालय का निर्माण कराया है। इसी प्रकार पूर्व कि सरकारों के समय में बिजली का कनेक्शन लेना किसी युद्ध से कम नहीं होता था , विभाग के तमाम चक्कर लगाने पडते थे। मोदी योगी सरकार ने हर घर  को बिजली से रोशन करने की ऐसी योजना चलाई कि अब अधिकारी घर घर जाकर बिजली का कनेक्शन दे रहे हैं।  पिछली सरकारों ने आम आदमी के जीवन को कठिन बनाया था पर वर्तमान सरकार ने आम जनमानस के जीवन को सहज और गरिमायुक्त बनाने का काम किया है। उसके घर तक सरकार की सुविधाए पहुचाने के साथ ही अवस्थापना सुविधाओं का विकास किया है। आज फ्री में बिजली का कनेक्शन , फ्री में गैस , प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान , किसान को 6000 रुपए की सम्मान राशि , कोरोना संक्रमण के समय महिलाओं के  जनधन खाते में 1500 रुपए की राशि, एक जवाबदेह पारदर्शी और जनता की सेवा करने वाली वर्तमान सरकार दे रही है। अभी तक 5 किलो राशन फ्री में दिया जाता था पर डबल इंजन की सरकार में इसकी मात्र भी डबल हो गई है। अब लोगों को 10 किलो  राशन दिया जाएगा।  यह गरीब के हित के लिए काम करने वाली सरकार  है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं का काफी समाधान किया गया है और  कुछ बची हैं उनका  भी समाधान किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने परीक्षा तंत्र की शुचिता स्थापित की है। कोरोना के समय में  ट्रिपल टी का मंत्र कोरोना को रोकने में सहायक बना। अमेरिका जैसे विकसित देश में कोरोना बेकाबू हुआ पर  सरकार की सक्रियता से यूपी के लोग सुरक्षित हो सके।  जब विपक्षी दलों द्वारा शासित दिल्ली ,महाराष्ट्र, राजस्थान की सरकारों ने  यूपी के श्रमिकों को वापस कर दिया, तब यूपी सरकार ने बसें लगाकर न केवल उन्हें घर पहुचाया बल्कि उनकी जांच कराई और खाने की भी व्यवस्था कराई। सीएम ने अपने पिता की मृत्यु  के समय उन्हे देखने जाने  की जगह जनता के प्रति कर्तव्य पालन को प्राथमिकता दी और लोगों की सुरक्षा के इंतजाम में लगे रहे। दूसरी तरफ विपक्षी दलों के नेता घरों में छिपकर ट्विटर ट्विटर खेल रहे थे। वैक्सीन को लेकर भी दुष्प्रचार किया। इसे बीजेपी की वैक्सीन तक कहा गया। भारत  फ्री में वैक्सीन  लगाने  वाला पहला देश है।  कोरोना काल में नगारिकों के लिए जिस प्रकार की व्यवस्थाए मोदी योगी सरकार ने की थीं उसके बारे में पिछली सरकारों के समय में सोंचा भी नहीं जा सकता था।  उनका कहना था कि शाहगंज क्षेत्र  विकास के दूर रहा क्योंकि यहां के जनप्रतिनिधि तुष्टीकरण के सहारे चुनाव जीतते रहे पर जनता का कल्याण नहीं हुआ। अब शाहगंज विधानसभा को भाजपा यहां के लोगों को शाह बनाएगी। कार्यक्रम में जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ साथ प्रदेश सरकार के मंत्री श्री गिरीश यादव प्रदेश उपाध्यक्ष श्री राकेश त्रिवेदी विधायक रमेश मिश्रा डॉक्टर हरेंद्र प्रसाद सिंह जिला अध्यक्ष पुष्पराज सिंह पूर्व विधायक बांकेलाल सुनकर श्री सुरेंद्र प्रताप सिंह आदि उपस्थित थे

About IBN NEWS

Check Also

ब्रेकिंग न्यूज़: सांसद खेल प्रतियोगिता का हुआ आगाज

  अयोध्या ब्यूरो कामता शर्मा अयोध्या। बीकापुर के भारती इंटर कॉलेज खेल के मैदान में …