Breaking News

मिर्जापुर – वर्षा के दिनों में सिंचाई डैमों पर हाईटेक सूचना केंद्र स्थापित होंगे- कमिश्नर श्री मुरलीमनोहरलाल

Ibn24x7news रिपोर्ट-विकास चन्द्र अग्रहरि ब्यूरो चीफ मीरजापुर
मीरजापुर l वर्षा ऋतु में सिंचाई बांधों में अधिक जल आने तथा उसे छोड़ने पर किसी अप्रिय स्थिति की निगरानी को हाईटेक किया जा रहा है तथा इस पर अन्तर्राज्यीय संवाद बनाया जा रहा है ।
इस सम्बंध में विंध्याचल मण्डल के कमिश्नर श्री मुरलीमनोहर लाल ने मध्यप्रदेश एवं मण्डल के मिर्जापुर तथा सोनभद्र के उच्चस्तरीय अधिकारियों के साथ लम्बी बैठक कर निर्देश दिया कि हर बांधों पर टेक्निकल स्टाफ तो रहेगा ही साथ ही विविध सूचना केंद्र स्थापित किए जाएंगे । इन केंद्रों पर वायरलेस स्टेशन, टेलीफोन, ई-मेल, फैक्स उपलब्ध होंगे ।
बुधवार को मध्यप्रदेश एवं मण्डल के दो जनपदों के वरिष्ठ प्रशासनिक और सिंचाई विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में संयुक्त बाढ़ नियंत्रण समिति की बैठक में कमिश्नर मुरलीमनोहर लाल ने कहा कि मिर्जापुर जिले में स्थित अदवा डैम, मेजा डैम तथा सिरसी के कैचमेंट एरिया (जल संग्रहण क्षेत्र) में अधिक पानी बरसने पर उसे बेलन नदी में छोड़ा जाता है जो मध्यप्रदेश के चाकघाट क्षेत्र में जाकर टमस नदी से मिलने वाली उत्तर प्रदेश की टोंस नदी के जरिए गंगा नदी में जाता है । इस पानी से मध्यप्रदेश के 70 तथा उत्तर प्रदेश के कोरांव (इलाहाबाद) के क्षेत्र के निचले स्तर पर स्थित 20 गांवों में खतरा उत्पन्न होने की संभावना रहती है । बैठक में पहलीबार तय यह किया गया कि यदि टमस और टोंस में ज्यादा पानी बरस रहा है और मेजा डैम के कैचमेंट में ज्यादा पानी नहीं बरसा है तो यहां से पानी छोड़ने में विशेष ध्यान दिया जाए क्योंकि यहां से चाकघाट पानी जाने में 15 घण्टे लग जाता है, इसलिए इसकी रफ्तार धीमी भी की जा सकती है । यदि हर जगह भीषण वर्षा है तो समय से उक्त प्रभावित ग्रामों को एलर्ट किया जाएगा ताकि बचाव समय से हो सके । कमिश्नर ने डाउन स्ट्रीम पर वर्षा मापी केंद्र स्थापित किए जाने का निर्देश दिया । उन्होंने अधिक वर्षा और बाढ़ की नौबत आने पर कंटीजेंसी प्लान बनाने का भी निर्देश दिया । उल्लेखनीय है कि वर्षा पूर्व उक्त समिति की बैठक एक वर्ष मध्यप्रदेश तो दूसरे वर्ष उत्तर प्रदेश में होने का प्राविधान है । इस बार यह बैठक मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में मिर्जापुर में हुई ।
बैठक में मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश के सिंचाई अधिकारियों के अलावा दोनों जनपदों के जिलाधिकारी मौजूद रहे l

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

मोदी सरकार ने अग्रेजो के बनाये कानून में किया बड़ा बदलाव अब 24 घण्टे होगा पोस्टमार्टम

  केंद्र सरकार ने हत्या, आत्महत्या, बलात्कार, क्षत-विक्षत शव और संदिग्ध मामलों को छोड़कर, उचित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *