Breaking News

अहरौरा मिर्जापुर: अहरौरा में निकली भगवान् श्रीकृष्ण की रथयात्रा

अहरौरा में निकली भगवान् श्रीकृष्ण की रथयात्रा
अहरौरा नगर के संत्यानगज मोहल्ले में स्थित श्री राधा कृष्ण मंदिर में निकाली गई भगवान जगन्नाथ सुभद्रा व बलभद्र की शोभायात्रा जोकि एक दीवसीय मनाया जाता है, वैसे तो बतादे की जगरनाथ पुरी में भगवान् की ऐतिहासिक मेला लगभग एक सप्ताह का लगता है इस दिन भगवान जगन्नाथ अपनी मौसी के घर जाते हैं घुमने के लिए कहते हैं कि भगवान जगन्नाथ जी एक महिने पहले ज्यादा बिमार हुए थे तब उनके जो बैघ थे उन्होंने भगवान के बिमार होने पर काढ़ा बनाकर पीने के लिए कहा था |
जब भगवान ठिक हो गये तब वह अपनी पत्नी सुभद्रा व बलभद्र को लेकर अपनी मौसी के घर। जाते हैं घुमने के लिए रथ पर विराजमान होकरनिकलते हैं तभी से इस मेले का रूप दिया गया और पुरी की रथयात्रा के रूप में पुरे देश में धुमधाम से मनाया जाता है, आज पुरे जनपद ही नहीं अपितु पुरे प्रदेश में रथयात्रा मेले के रूप में मनाया जाता है , अहरौरा नगर में भी आज निकाली गई शोभायात्रा जिसमें मन्दिर के पुजारी श्री अमरेश चन्द्र पाण्डेय ने बड़े ही प्यार से भगवान को नहला कर वस्त्र आभूषण भगवान को पहेनाकर तैयार कर आरती किया जिसमें भगवान के रथ को सुन्दर फुलों से शुशोभित कर सजाया गया था और चारों ओर किर्तन भजन जयकारे गूंज रहे थे|
इस अवसर पर श्री राधा कृष्ण मंदिर स्थल समिति के , अध्यक्ष पारस नाथ केशरी, मंत्री राजकुमार अग्रहरी , विजय वैघ , सुनिल कुमार, राजेन्द्र अग्रहरी बचाउ लाल, विनित अग्रहरी आशीष पांडेय आदि सैकड़ों की संख्या में श्रृद्धालु रथ पर फुलो वह अछ्छत की वर्षा करते हुए नजर आए , और प्रशासन चौकि प्रभारी आलोक सिंह अपने सिपाहियों के साथ मुस्तैद दिखे और मेले में डटे रहे ।
 
रिपोर्ट हरिकिशन अग्रहरि ibn24x7news मिर्जापुर

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

अयोध्या – बाबरी विध्वंस की 30वी बरसी आज

अयोध्या ब्यूरो कामता शर्माअयोध्या।बाबरी विध्वंस की 30वी बरसी आज।6 दिसम्बर 1992 को हुआ था विवादित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *