Breaking News

बेतिया:-ईद पर वेतन नहीं मिलने से शिक्षकों में मायूसी, संघ ने विभागीय कार्यशैली पर जताई आपत्ति

बेतिया:-ईद पर वेतन नहीं मिलने से शिक्षकों में मायूसी, संघ ने विभागीय कार्यशैली पर जताई आपत्ति
बेतिया:-ईद के अवसर पर भी शिक्षकों को वेतन नहीं मिलने से शिक्षकों में मायूसी व सरकार के प्रति रोष है। सरकार की घोषणा एवं ईद से निकट पूर्व आवंटन दिखावा साबित हुआ एवं यह शिक्षकों के जले पर नमक छिड़कने जैसा है। सरकार दिखावे के लिए अखबार में वेतन की खुशखबरी का ढिंढोरा पीटती है कि शिक्षकों के वेतन के लिए इतना रुपया जारी लेकिन सरकार व विभाग के उपेक्षा के कारण शिक्षकों को ईद पर भी समय से उनका मेहनताना वेतन भी मयस्सर नहीं हो सका। सरकार को अपनी चिंता है शिक्षकों की नहीं। उक्त बातें TET STET उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ, (TSUNSS) गोपगुट, पश्चिम चम्पारण (बिहार) संघ व नेतृत्व के हवाले से संघ के जिला सोशल मीडिया प्रभारी सुनिल कुमार राउत ने कही।
उन्होंने बताया कि सरकार ने घोषणा की थी शिक्षकों को ससमय वेतन देने के लिए विभाग योजना बना रही है और मई माह से ही उसके तहत पटना से भुगतान होगा किंतु जून माह में भी उस योजना के तहत भुगतान नहीं हो सका। सबसे दुर्भाग्यपूर्ण यह कि ईद जैसे बड़े त्योहार पर भी शिक्षकों को वेतन नहीं मिला जबकि विभाग द्वारा अखबार में प्रचार प्रसार किया गया था। एक दो दिन पूर्व आवंटन जारी किया गया। क्या मुसलमान शिक्षक उस पेपर की कटिंग दिखाकर दुकान से समान खरीदेंगे ? आम जनता उस खबर से जानती होगी शिक्षकों को वेतन मिल गया होगा जबकि हकीकत इससे परे है। यह समाज में शिक्षकों का अनादर कराने के सिवा कुछ नहीं। सरकार को यदि शिक्षकों की चिंता होती तो ईद पर समय से वेतन दे देती ताकि मुस्लिम समुदाय के शिक्षक खुशी पूर्वक सपरिवार ईद मना सकते। शिक्षक अब तो पैसे के अभाव में कर्ज, उधारी एवं जैसे तैसे त्योहार मनाने को विवश हैं यह सरकार की उदासीनता के कारण हुआ है।
 
रिपोर्ट विजय कुमार शर्मा ibn24x7news पश्चिमी चंपारण बिहार

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

मोदी सरकार ने अग्रेजो के बनाये कानून में किया बड़ा बदलाव अब 24 घण्टे होगा पोस्टमार्टम

  केंद्र सरकार ने हत्या, आत्महत्या, बलात्कार, क्षत-विक्षत शव और संदिग्ध मामलों को छोड़कर, उचित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *