Breaking News

बिहार: बिहार सरकार ने निजी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस के लिए फीस का निर्धारण कर दिया है

बिहार सरकार ने निजी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस के लिए फीस का निर्धारण कर दिया है
निजी मेडिकल कॉलेज फीस निर्धारण कमेटी की बैठक में फ‌ीस तय हुई। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि कटिहार मेडिकल कॉलेज की फीस 8 लाख 38 हजार और नारायण मेडिकल कॉलेज सासाराम की 8 लाख 21 हजार रुपए प्रति वर्ष होगी। यह फीस सत्र 2018-19, 2019-20 और 2020-21 के लिए तय हुई है। फीस में छात्रावास, परिवहन और मेस चार्ज शामिल नहीं है।
वहीं, माता गुजरी मेडिकल कॉलेज किशनगंज की फीस 8 लाख (2018-19 के लिए) तय की गई है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि तय राशि ही कॉलेज प्रशासन छात्रों से लेंगे। अगर किसी ने अधिक राशि ली तो कार्रवाई की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शुल्क निर्धारण के लिए सरकार ने पिछले साल कमेटी गठित की थी। स्वास्थ्य विभाग ने पिछले साल निजी मेडिकल कॉलेजों की फीस के निर्धारण के लिए परीक्षा नियंत्रक प्रभात कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित की थी। टीम ने विभिन्न राज्यों के मेडिकल कॉलेजों का दौराकर नामांकन शुल्क की जानकारी ली थी। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने सभी निजी मेडिकल कॉलेजों से वार्षिक स्थापना खर्च का भी ब्योरा मांगा था।
जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के निजी मेडिकल कालेजों में यह फीस-9 से 15 लाख, उत्तर प्रदेश में 10 लाख और राजस्थान में 10 से 15 लाख है। वहीं, दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में यह 25 से 30 लाख रुपए तक भी है। बताया गया कि बिहार के निजी मेडिकल कॉलेजों में पहले 50 से 60 लाख तक फीस ली जा रही थी।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

खैरा प्रखंड अंतर्गत बेला गांव में जमुई मेडिकल कॉलेज (जेएमसी) का निर्माण कार्य 14 दिसंबर से शुरू होने जा रहा

  रिपोर्ट टेकनारायण यादव IBN NEWS जमुई बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना से वर्चुअल तरीके …

Leave a Reply

Your email address will not be published.