Breaking News

गोला खीरी : तालाबों पर अवैध कब्जा

तालाबों पर अवैध कब्जा
गोला गोकर्णनाथ तहसील के अंतर्गत नियम विरुद्ध तरीके से किए गए तालाबों के पट्ठे जिले पर समिति द्वारा अवैध रूप से तालाब माफिया भगवानदास ने जालसाजी और अधिकारियों की मिलीभगत से जिले के हर तहसील के बड़े तालाबों की अपनी समिति द्वारा अपने नाम पट्टा करा लिया तालाब माफिया भगवानदास अपनी समिति से सभी तहसील में जिन मछुआरों के पहले पट्टे थे  उनको उस तालाब को दे देता है और उसके बदले में हर माह उन गरीबों से ₹10000 रुपए लेता है जबकि वह मछुआरे हर साल सरकारी राजस्व अपने पास से सरकार को देते हैं इसी बात को लेकर महिला व पुरुष तहसील पहुंच कर उप जिला अधिकारी के कार्यालय के बाहर धरना दिया और उन्होंने भगवान दास तालाब माफिया के नाम के मुर्दाबाद के नारे भी लगाए उन्होंने उप जिलाधिकारी महोदय को ज्ञापन देकर बताया कि लगभग हमारे साथ में 40 से 50 परिवार  ऐसे हैं जिनके पास किसी प्रकार की कोई खेती नहीं है वो भूमिहीन है वह सब गोला उप जिलाधिकारी से  न्याय के लिए गुहार लगाई परंतु उप जिलाधिकारी गोला द्वारा यह कह कर बात टाल दी गई कि यह समिति का मामला है यह जिले से ही जो भी अधिकारी निर्णय लेंगे और वही जांच कराकर निरस्त कराने का प्रयास करेंगे तभी पट्ठा निरस्त हो सकता है हम जिला अधिकारी महोदय को इस ज्ञापन  के माध्यम से अवगत करा देंगे जबकि पीड़ितों ने बताया कि तालाब माफिया भगवान दास ने जालसाजी व अधिकारियों की मिलीभगत से  तहसीलों के बड़े तालाबों के पट्ठे अवैध रूप से करा लिया  आपको बताते चलें कि जिन मछुआरों को पूर्व में पट्टे दिए गए थे वह मछुआरे गरीब व भूमिहीन है योगी सरकार में गरीबों का हनन किया जा रहा है आखिर क्या कारण है अमीरों का बोलबाला और गरीबों की कहीं पर सुनवाई ही नहीं होती है जबकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का कहना था कि गरीबों का कोई भी हनन नहीं होगा लेकिन आज सब उसका उल्टा हो रहा है गरीब मछुआरों ने योगी सरकार से न्याय की गुहार है ।
 
रिपोर्ट मोहम्मद असलम ibn24x7news लखीमपुर खीरी

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

मोदी सरकार ने अग्रेजो के बनाये कानून में किया बड़ा बदलाव अब 24 घण्टे होगा पोस्टमार्टम

  केंद्र सरकार ने हत्या, आत्महत्या, बलात्कार, क्षत-विक्षत शव और संदिग्ध मामलों को छोड़कर, उचित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *