Breaking News

पटना: पटना पुलिस को मिली सफलता

पटना: पटना पुलिस को मिली सफलता

 15 मई को पटना सिटी कोर्ट मैं पेशी के बाद बेउर जेल लौट रहे कैदी वाहन में विस्फोट हो गया था और इस घटना में पुलिस वाहन में बैठे पुलिस कर्मियों के साथ साथ कई अपराधिक जो कोर्ट में पेशी के लिए गए थे वह भी घायल हो गए थे आपको बताते चलें कि उसका जीवन में कुल 22 अपराधी थे जो उस दिन सिटी कोर्ट में पेशी के लिए गए थे और उसी में से कुछ अपराधियों ने यह साजिश रची थी और इस साजिश को रचने वाले कुल नौ अपराधियों को आज पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है अभी इस घटना में संलिप्त पुलिस गिरफ्त से बाहर है जिसे जल्द गिरफ्तार करने की बात एसएसपी मनु महाराज ने कहीं है….

वह इस कांड में पकड़े गए अपराधियों अपूर्व अपराधिक इतिहास भी रहा है बहुचर्चित अवधेश हत्याकांड जिसे गोपालपुर में अंजाम दिया गया था उस हत्याकांड में भी यह सभी आरोपी रहें है

दरअसल अपराधियों की मंशा कैदी वाहन में सवार सोनू और सिकंदर को बम विस्फोट कर और पुलिसकर्मियों को घायल कर पुलिस के गिरफ्त से भगाना था खाना किस दिशा में अपराधी नाकाम रहे गिरफ्तार सभी अपराधी सिटी कोर्ट परिसर से इस कैदी वाहन कि रेकी कर रहे थे जिस पर सोनू और सिकंदर सवार था अपराधियों की मंशा थी कि बम मारकर कैदी वाहन का लॉक तोड़ देते और वाहन पर सवार सुरक्षाकर्मियों पर फायरिंग कर उन्हें घायल कर सोनू और सिकंदर के साथ-साथ कई अन्य कैदियों को भी पेशी के दौरान भगा लेते हैं कैदी वाहन के कोट से निकलते हैं यह सारे कैदी वाहन का पीछा करते हुए दशरथ मोड़ के पास पहुंचे और बस में सवार अपराधियों ने इन अपराधियों द्वारा कोर्ट परिसर में दिया गया बम दशरथा मोड़ के पास कैदी वाहन में विस्फोट कर दिया गया इनकी मंशा थी कि विस्फोट होते हैं अफरा-तफरी का माहौल हो जाएगा और आनन-फानन में पुलिसकर्मी इन लोगों को बाहर निकालेंगे और इन लोगों के बाहर निकलते हैं सड़क पर पहले से तैनात अपराधी पुलिस कर्मियों पर फायरिंग कर अपराधियों को छुड़ा लेते हैं इनकी मंशा और उस समय पानी फिर गया जब वाहन में बम ब्लास्ट होते हैं सभी पुलिसकर्मी अलर्ट हो गए और कैदी वाहन के आसपास संभाल लिया जिससे इन अपराधियों की मंशा नाकाम हो गई गिरफ्तार 10 अपराधी कैदी वाहन के पीछे बाइक और ऑटो से लगे हुए थे..

वह इस मामले में अन्य एक अपराधी घटनास्थल से भागने में सफल हो गया है जिस की धरपकड़ के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है

गिरफ्तार अपराधियों के पास तीन देसी पिस्टल एक रिवाल्वर 14 जिंदा कारतूस पांच जिंदा बम और गांजे की 65 पुड़िया बरामद हुई है

एसएसपी ने बताया कि अपराधी सिकंदर और सोनू को जेल से छुड़ाने की योजना यह अपराधी पिछले 1 महीना से बना रहे थे और इस पूरी घटना को अंजाम देने के लिए पटना सिटी से इन अपराधियों को ₹50000 की सुपारी दी गई थी और इन अपराधियों ने सिटी कोर्ट में ही फल के थैले में हथियार और बम सोनू और सिकंदर को उपलब्ध करा दिए थे

जेल से निकलने के बाद यह अपराधी किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे और इन्हें देर रात पटना के मंगल तालाब थाना क्षेत्र के चौक थाना से गिरफ्तार कर लिया गया16 मई को फुलवारी थाना अंतर्गत कांग्रेस मैदान के पास सूरज चौहान नाम व्यवसाई को अपराधियों ने गोली मार हत्या कर दी थी इस हत्याकांड मामले में शूटर शेखर कुमार सहित दो अन्य अपराधियों को SSP की टीम ने पेठिया बाजार  से गिरफ्तार कर लिया है इस पूरे घटना का मास्टरमाइंड सुरेंद्र बताया जा रहा है जिसने अपराधियों को घटना कारित करने के लिए हथियार उपलब्ध करवाए थे घटना में उपयोग किया हुआ पिस्टल भी पुलिस ने बरामद कर लिया है…

गिरफ्तार अपराधियों ने बताया पैसे के लेनदेन की वजह से इन लोगों ने सूरज की हत्या कर दी थी गिरफ्तार शेखर सूरज का जिगरी दोस्त था और एक ही किराए के मकान में रहा करते थे और पैसे के लेनदेन की वजह से शेखर ने दो अपराधियों के साथ मिलकर सूरज चौहान की हत्या पटना के फुलवारी थाना अंतर्गत कांग्रेस मैदान के समीप कर दी थी

एसएसपी ने बताया इस घटना के 24 घंटे के अंदर कांड का उद्भेदन कर दिया गया और इस घटना में शामिल तीनों अपराधियों को घटना में उपयोग किए हुए एक पिस्टल सात जिंदा कारतूस एक मैगजीन और एक देसी लोडेड पिस्टल के साथ धर दबोचा है|

 

रिपोर्ट अमन सिंह ibn24x7news पटना

About IBN 24×7 NEWS

Check Also

लखीमपुर खीरी: तेज रफ्तार का कहर जारी फिर गई कई की जान

तेज रफ्तार का कहर जारी फिर गई कई की जान यह हादसा लखीमपुर खीरी के …

3 comments

  1. Hello mates, pleasant article and nice arguments commented here, I am really enjoying by these.

  2. The Dutch flower trade has roots stretching again centuries, highlighted by the speculative
    ‘Tulip mania’ trading bubble within the first part
    of the seventeenth century.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish
en_USEnglish
Skip to toolbar
Developed By:- OkHost.IN